बदरीनाथ : बदरी-केदार मंदिर समिति की ओर से बड़ी खबर आई है औऱ वो ये है कि बदरी-केदार समिति फिलहाल गुप्ता बंधुओं का दान स्वीकार नहीं करेगी। इस बारे में गुप्ता बंधुओं को जानकारी दे दी गई है।

वहीं इस मामले में समिति सरकार से मार्गदर्शन मिलने का इंतजार कर रही है। तो वहीं उधर मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह का कहना है कि मंदिर समिति की ओर ऐसा प्रस्ताव सरकार को नहीं मिला है। समिति मार्गदर्शन चाहेगी तो दिया जाएगा। वहीं काबीना मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि इस संबंध में फैसला लेने को मंदिर समिति अधिकृत है।

गुप्ता बंधुओं ने दिया था मंदिर के गर्भ गृह की छत पर सोने की परत मढ़ने का प्रस्ताव

बदरी-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष और पूर्व विधायक गणेश गोदियाल ने बताया कि पिछले साल मई में गुप्ता बंधुओं ने बदरीनाथ मंदिर के गर्भ गृह की छत पर सोने की परत मढ़ने का प्रस्ताव दिया था। इसे मंदिर समिति ने मंजूरी दे दी थी।

उन्होंने कहा कि तब गुप्ता बंधुओं पर किसी तरह का आरोप नहीं था, लेकिन वर्तमान में परिस्थितियां बदल चुकी हैं। उन्होंने बताया कि अब सरकार से मार्गदर्शन मांगा गया है, लेकिन अभी तक समिति को कोई जवाब नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि सरकार का जवाब मिलने पर ही आगे की कार्यवाही की जाएगी। गोदियाल के अनुसार अभी तक गुप्ता बंधुओं ने भी मंदिर समिति से संपर्क नहीं किया है।

इस संबंध में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि मंदिर समिति की ओर से कोई प्रस्ताव सरकार को नहीं मिला है। सरकार के प्रवक्ता व काबीना मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि सरकार को मंदिर समिति की ओर से कोई प्रस्ताव अभी नहीं मिला है। मंदिर समिति को इस मामले में खुद ठोस निर्णय लेना चाहिए। समिति को मामले को राजनीतिक रंग देने से बचना चाहिए।

भागवत कथा के लिए पहुंचे गुप्ता बंधु

बदरीनाथ में माणा मार्ग पर बुधवार से भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन 22 मई तक चलेगा। इस दौरान जूना अखाड़े के पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशानंद महाराज कथा वाचन करेंगे। आयोजन के मुख्य आयोजक गुप्ता बंधु हैं। मंगलवार को उद्योगपति अजय गुप्ता और अतुल गुप्ता अपनी मां अंगूरी देवी के साथ हेलीकॉप्टर से बदरीनाथ पहुंचे। यहां वे रिलायंस के गेस्ट हाऊस में ठहरे हुए हैं।



https://ift.tt/2L6wAwU


See More

 
Top