रुद्रप्रयाग- ट्रेकिंग पर गया एक दल पनपतिया ग्लेशियर में फंस गया. जिसके एक की मौत हो गई. आपको बता दें 5 जून को 23 सदस्यों की टीम ट्रेकिंग के लिए रवाना हुई थी जिसमें 9 बंगाल के ट्रेकर थे. जिनमें से एक की मौत हो गई है। ग्लेशियर में फंसे इन ट्रेकर्स को रेस्क्यू करने के लिए SDRF की दो टीमें मद्महेश्वर पहुंच गई है। यहां से टीम ग्लेशियर तक पहुंचने के लिए पैदल मार्ग पर निकली.

भारतीय रेलवे विभाग से 23 लोगों का दल फंसा

दरअसल 5 जून को भारतीय रेलवे विभाग से लगभग 23 लोगों का दल चमोली के लामबगड़ खीरों नदी से पैदल ट्रेक पर पनपतिया ग्लेशियर निकला था। उसमें 9 ट्रेकर्स के साथ 12 पोर्टर और 2 गाइड शामिल थे। अत्याधिक बर्फबारी के कारण तीन दिन पहले ही कोलकता के एक ट्रेकर की मौत हो गई और बाकि के लोग ग्लेशियर में ही फंसे रह गए। किसी तरह दल के चार लोग ग्लेशियर से नीचे उतरकर मद्महेश्वर पहुंचे और स्थानीय लोगों और जिला प्रशासन को इसकी जानकारी दी।

कुल 19 लोगों के फंसे होने और एक की मौत की जानकारी मिलते ही तुरंत प्रशासन ने एसडीआरएफ की दो टीमों को हेलीकॉप्टर से मद्महेश्वर रवाना किया। ये एसडीआरएफ की टीम दल के अन्य लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक  सजल सरोवर पर फंसे ट्रेकर्स को रेस्क्यू करने के लिए पैदल मार्ग पर रवाना हो चुकी है। फिलहाल टीम मद्महेश्वर से आठ किमी आगे पहुंच गई है।



https://ift.tt/2y74Rty


See More

 
Top