• चार साल बाद कोई पर्वतारोही दल आरोहण में हुआ सफल 
  • समुद्रतल से 7138 मीटर ऊंची चोटी पर पहुँच की फतह हासिल

उत्तरकाशी : वर्ष 2014 के चार  वर्ष बाद चौखम्बा -एक चोटी का आरोहण करने में ब्रिटेन के तीन पर्वतारोहियों को सफलता मिली है। इस दल  के पर्वतारोही गंगोत्री हिमालय की सबसे ऊंची चोटी चौखंभा-प्रथम का आरोहण करने में सफल रहे हैं। माउंट हाइविंड ट्रैकिंग एंड माउंटेनियरिंग एजेंसी के तत्वाधान में ब्रिटेन का यह चार सदस्य पर्वतारोही दल बीती 20 मई को चौखंभा-प्रथम के आरोहण को रवाना हुआ था।

इस दल के तीन सदस्यों ने दस जून को समुद्रतल से 7138 मीटर ऊंची इस चोटी को फतह हासिल करने में सफलता हासिल की। माउंट हाइविंड ट्रैकिंग एंड माउंटेनियरिंग एजेंसी के संचालक जयेंद्र राणा ने बताया कि ब्रिटिश पर्वतारोही माल्कॉलम नेल बास, गुए बुकिंगम व पॉल माइकेल ने चौखंभा का सफल आरोहण किया। जबकि, दल में शामिल हमिश फ्रोस्ट आरोहण नहीं कर पाए।

उन्होंने बताया कि इस दल ने अपना बेस कैंप सुंदरवन में बनाया था। ब्रिटिश पर्वतारोही माल्कॉलम नेल इस दल का लीडर थे, जो वर्ष 1995 में सुंदरवन के पास श्वाचन चोटी के आरोहण के लिए आ चुके हैं। लेकिन, मौसम खराब होने के कारण वह उस समय इसमें सफल नहीं हो पाए थे । बताया फिर यह दल वर्ष 1998 में भी  एक बार फिर श्वाचन के आरोहण को आया। लेकिन, हिमस्खलन होने से चलते इन्हे आरोहण में  सफलता नहीं मिल पायी थी । इस बार दल ने चौखंभा -एक चोटी को आरोहण के लिए चुना।

उल्लेखनीय है कि चौखंभा-प्रथम चोटी का आरोहण वर्ष 2014 में भी एक विदेशी दल ने ही किया था। इसके बाद यह पहला दल है जिसने आरोहण में सफलता प्राप्त की है। पर्वतारोहियों के साथ गाइड कपिल पंवार, 35 पोर्टर, कुक और तीन सहयोगी शामिल थे।



https://ift.tt/2JAoZJL


See More

 
Top