देहरादून- मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत एक्शन मोड में आ गये हैं… मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने तमाम जिलों के प्रभारी मन्त्रियों में फेरबदल किया. जिसके बाद नए प्रभारी मंत्रियों की लिस्ट जारी की गई.

सीएम ने नए सिरे से सभी मंत्रियों को प्रभार सौंपा

सरकार नये सिरे से मन्त्रियों को जिले का प्रभार सौंपने जा रही है. जिसमें सतपाल महाराज को हरिद्वार जिले का जिम्मा सौंपा गया तो वहीं प्रकाश पंत को चमोली और रुद्रप्रयाग, मदन कौशिक को उधमसिंह नगर औऱ नैनीताल, हरक सिंह रावत को अल्मोड़ा, यशपाल आर्य को देहरादून, सुबोध उनियाल को पौड़ी, अरविंद पांडे को पिथौरागढ़ और चंपावत, रेखा आर्य को बागेश्वर औऱ धन सिंह रावत को टिहरी और उत्तरकाशी जिले का प्रभार बनाया गया है. भले ही मुख्यमन्त्री प्रभारी मन्त्रियों की परफॉर्मेंस के सवाल पर इंकार कर रहे हो लेकिन भाजपा विधायक भी ये स्वीकार कर रहे हैं कि मन्त्रियों के बारे में सब कुछ अच्छा नहीं चल रहा है.

अप्रैल 2017 में मंत्रियों को सौंपा गया था जिम्मा

अप्रैल 2017 में उत्तराखंड की डबल इंजन वाली त्रिवेन्द्र सरकार ने प्रदेश में सबका साथ सबका विकास के नारे के साथ आम लोगों तक सरकार की पहुंच बढ़ाने के लिये बड़ा कदम उठाया था. जिसमें सभी मन्त्रियों को जिलों का प्रभार दिया गया था, जिनमें कुछ मन्त्रियों को दो जिले भी दिये गये थे. जैसे-जैसे समय बदला मन्त्रियों के बारे में शिकायतें आने लगीं कि जिलों में पहुंचते ही नहीं हैं. कई जगहों पर तो विधायकों की शिकायतें भी आयी हैं कि मन्त्री लोगों की समस्या सुनते तक नहीं हैं.

पहले मंत्रियों के पास था इन-इन जिलों का जिम्मा

जिसमें अप्रैल माह में सरकार ने मन्त्री सतपाल महाराज को चमोली और हरिद्वार का प्रभारी बनाया था. कैबिनेट मन्त्री प्रकाश पंत को ऊधमसिंह नगर और बागेश्वर, मदन कौशिक को देहरादून और उत्तरकाशी, हरक सिंह रावत को नैनीताल, यशपाल आर्य को पौड़ी और रूद्रप्रयाग, सुबोध उनियाल को पिथौरागढ़, अरविन्द पाण्डेय को टिहरी जबकि स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मन्त्री धन सिंह रावत को अल्मोड़ा और रेखा आर्य को चम्पावत का प्रभारी बनाया गया था.

कांग्रेस बैकग्राउंड के मंत्रियों के प्रभार में कमी

सीएम त्रिवेंद्र रावत ने प्रभारी जिलों में किए गए फेरबदल में कांग्रेस बैकग्राउंड के मंत्रियों को एक ही जिले का जिम्मा सौंपा…जहां यशपाल आर्य के पास पहले पौड़ी और रुद्रप्रयाग का जिम्मा था उन्हे केवल देहरादून यानि की एक ही जिले का प्रभारी बनाया गया.



https://ift.tt/2MewZOl


See More

 
Top