• नड्डा ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला

देहरादून । मंगलवार को देहरादून पहुंचे केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने कांग्रेस पर इमरजेंसी को लेकर जमकर हमला बोला। उन्होंने बीजेपी कार्यालय में पत्रकार वार्ता में कहा कि, बीजेपी आपातकाल को काले दिवस के रूप में मना रही है। कांग्रेस ने अपने चरित्र के अनुरूप 1975 में आपातकाल लागू किया था। बीजेपी जगह-जगह इस बात पर जनता का ध्यान आकर्षित कर रही है। जनता ने इस आपातकाल के दौरान दूसरी आजादी की लड़ाई लड़ी थी। इसलिए अब कांग्रेस के पास कोई नैतिक अधिकार नहीं है कि लोकतंत्र की बात करे।

उन्होंने कांग्रेस को आडे हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस लोकतंत्र का गला घोंटने का काम कर रही है जिसे सहन नहीं किया जायेगा और आपातकाल का सच जनता के सामने लाने का आहवान किया।कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा केन्द्र में फिर सत्तासीन होगी और जनता अपना आशीर्वाद देगी। उन्होने कहा कि लोकतंत्र का गला घोंटने वाली कांग्रेस को आखिर किस मुंह से लोकतंत्र बचाने की दुहाई दे रही है। कांग्रेस कार्यकाल के समय ही आपातकाल लगाया गया था और इससे हुई परेशानी किसी से छिपी हुई नहीं है।

उन्होंने कहा कि, उस वक्त कांग्रेस हर तरह से सत्ता पर काबिज होना चाहती थी, इसलिए कांग्रेस ने उस समय पहले आपातकाल लगाया, फिर कैबिनेट के हस्ताक्षर कराए, 1 लाख 10 हजार 806 लोगों को गिरफ्तार कराया, हजारों पत्रकारों को परेशान किया। वहीं लोकसभा में कई संशोधन भी लाए। उस समय विपक्ष के नेता जेल में थे। इतना ही नहीं कांग्रेस सरकार ने 3 जजों को चीफ जस्टिस बनाया। बीजेपी उन लोगों को नमन करती है जिन्होंने 22 महीने तक इमरजेंसी के समय में भी हार नहीं मानी।

उन्होंने कहा कि उस वक्त उत्तराखंड भी पीछे नहीं रहा। उत्तराखंड से भी 200 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया गया। वहीं उन्होंने आयुष्मान भारत योजना को लेकर भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि योजना का लक्ष्य 55 करोड़ लोगों को 5 लाख का हेल्थ बीमा देना है। जनता से इस विषय पर स्पोर्ट मांगा जा रहा है। केंद्र सरकार ने इसके नियम बनाए हैं, लेकिन योजना को राज्य अपने हिसाब से निर्धारित करें। हर योजना को पूरा होने में समय लगता है। जनता धैर्य रखे सबको इसका लाभ दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि, इस योजना को अब सरकार ट्रस्ट मोड पर चलाएगी। योजना को शुरू होने में छह महीने का समय लगेगा। योजना पोर्टेबल मोड में होगी। इसका फायदा होगा कि मरीज किसी भी संस्थान में इलाज करा सकेंगे।

  • आपातकाल के खिलाफ देश की आजादी की दुसरी लड़ाई थीः भट्ट

वहीँ दूसरी तरफ  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट ने कहा कि 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री द्वारा लगाए गए आपातकाल के खिलाफ संघर्ष देश में आजादी की दूसरी लड़ाई थी।

आपातकाल की 43 वीं वर्षगांठ पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री द्वारा लगाए गए आपातकाल के खिलाफ संघर्ष देश में एक प्रकार से आजादी की दूसरी लड़ाई थी। इस लड़ाई में लाखों लोगों ने भाग लिया और कई प्रकार से यातनाएं भी सही। इस दौरान कई लोग शहीद भी हो गए । एक बयान में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आपातकाल कांग्रेस के चरित्र का प्रमाण है। इतिहास बताता है कि कांग्रेस ने सत्ता में रहने के लिए हमेशा हर प्रकार के प्रपंच किए। यहां तक कि इंदिरा गांधी के चुनाव को जब न्यायालय ने अवैध घोषित कर दिया तो उन्होंने न्यायालय के निर्णय का सम्मान करने के स्थान पर देश में आपातकाल लगा दिया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा सत्ता का खेल करती है और इसके लिए वह किसी भी सीमा तक जा सकती है। आज भी वह सत्ता के लिए हर प्रकार के षडयंत्र और समाज में अलगाव पैदा करने की कोशिश कर रही है, लेकिन जनता सब जानती है। अजय भट्ट ने आपातकाल के समय संघर्ष करने वाले सेनानियों के प्रति सम्मान प्रकट करते हुए कहा कि इन सेनानियों को इतिहास में हमेशा याद किया जाएगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा की भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का उत्तराखंड दौरा कार्यकर्ताओं में ऊर्जा भर गया है। शाह के दौरे की आलोचना करने पर उन्होंने कांग्रेस नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं को दृष्टि दोष हो गया है।

The post खुद एमरजेंसी लगाने वाले लोकतंत्र की बात न करें : जे.पी.नड्डा appeared first on Dev Bhoomi Media.



https://ift.tt/2lBu06o


See More

 
Top