देहरादून- 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर पीएम मोदी देहरादून में योग कार्यक्रम में शिरक्त कर आम जनता के साथ योग करेंगे. वहीं इस कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर उत्तराखंड सरकार कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है. यही वजह है कि मौसम खराब होने पर भी सरकार ने योग दिवस मानने को लेकर खास तैयारियां कर रखी है.

मौसम भी नहीं डाल पाएगा कार्यक्रम में खलल

21 जून को देहरादून में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आम जनता के साथ योग करेंगे…वहीं इस योग कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर प्रदेश सरकार कोई कोर कसर नहीं छोड रही है…यहीं वहज है कि कार्यक्रम में अगर मौसम ने खलल डाली तो कार्यक्रम पर इसका कोई प्रभाव नहीं पडेगा,क्योंकि सरकार ने मौसम से निपटने के लिए खास तैयारियां की है.

कार्यक्रम का नाम वर्षा योग

वहीं खुले आसमान के नीचे होने वाले इस कार्यक्रम का नाम बरसात आने पर बदल जाएगा…जी हां अगर योग करते समय बरसात आ जाती है तो कार्यक्रम का नाम वर्षो योग हो जाएगा,सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने बकायदा इसकी जानकरी देते हुए कहा कि बारिश पर योग दिवस के कार्यक्रम का नाम वर्षो योग हो जाएंगा।

पिछले साल लखनऊ में भी योग दिवस के दिन हुई थी बारिश

जो लोग योग दिवस के अवसर पर पीएम मोदी के साथ योग करने आएंगे और अगर योग करते समय बरसात आ जाए तो सरकार ने योग करने वाले सभी लोगों को योगा मैट के साथ बारिश से फोन और पर्स का बचाव करने के लिए प्लास्टिक के पाउच भी देने का प्लान बनाया है. मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह का कहना कि पिछले साल लखनऊ में भी योग दिवस के दिन जब प्रधानमंत्री के साथ आम जनता योग कर रही थी तो उस समय भी बारिश हुई थी,इसलिए अगर इस बार भी बारिश होती है तो घबराने वाली कोई बात नहीं है क्योंकि बारिश के पानी से निपटने के लिए कार्यक्रम स्थल पर व्यवस्थाएं की गई है।

योग दिवस पर मौसम की मार न पड़े इसकी कामना तो उत्तराखंड सरकार जरूर कर रही है,लेकिन अगर योग दिवस के दिन बारिश हुई तो उससे निपटने के उपाय भी सरकार ने कुछ हद तक पूरे कर लिए हैं,,,लेकिन देखना यहीं होगा कि 21 जून का अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के दिन मौसम सरकार के इस कार्यक्रम पर मेहरबानी बरपाता है या फिर किसी हद तक पानी भी फेरसकता है।



https://ift.tt/2t8pi3I


See More

 
Top