• हज़ारों ग्रामीण जुटे  अगलाड़ नदी में मौण मनाने 
मसूरी । यमुना की सहायक नदी अगलाड़ में भींड का मौण मेला मनाने बड़ी संख्या में लोग जुटे। इस मेले में जौनपुर, जौनसार, बिन्हार, मसूरी और निकटवर्ती क्षेत्रों के लगभग 12 हजार से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया। इस दौरान ग्रामीणों ने सामूहिक रूप से 7500 किलोग्राम से अधिक मछलियां पकड़ी। मौण मेले की समाप्ति पर ग्रामीण नाचते गाते अपने गांवों के लिए रवाना हुए।
दिल्ली-यमुनोत्री नेशनल हाईवे पर अगलाड़ पुल से लगभग चार किमी ऊपर मौणकोट में ढोल-दमाऊ और रणसिंघा के साथ ग्रामीण नदी में पहुंचे। विधिवत पूजा-अर्चना के बाद टिमरू पाउडर से सभी पांतीदार प्रतिनिधियों का टीका किया गया। जिसके बाद इस बार टिमरू पाउडर तैयार करने वाले पांतीदार पट्टी छैज्यूला की उपपट्टी सिलगांव के ग्रामीणों ने 250 किलोग्राम टिमरू पाउडर अगलाड़ नदी में डाला। जिसके बाद ग्रामीणों ने मछलियां पकड़नी शुरू की।
मौणकोट से बंदरकोट होते हुए अगलाड़ पुल के नीचे यमुना के मुहाने तक ग्रामीणों ने कुंडियाड़ा, फटियाड़ा, जाल से मछलियां पकड़ी। वहीं कई लोगों ने तो तीन से चार किलो मछलियां पकड़ी और कुछ युवकों को खाली हाथ भी लौटना पड़ा। यातायात व्यवस्था सुचारू बनाने के लिए थानाध्यक्ष की ओर से कैम्पटी पुलिस फोर्स बंदरकोट, अगलाड़ पुल और मसूरी बैंड में तैनात रही। इस बार जौनसार क्षेत्र से भी बड़ी संख्या में लोग मछलियां पकड़ने पहुंचे थे।

The post अगलाड़ नदी में संपन्न हुआ परंपरागत मौण मेला   appeared first on Dev Bhoomi Media.



https://ift.tt/2KzzHA7


See More

 
Top