उत्तरकाशी । भारतीय सेना की नौ महिला अधिकारियों ने गंगोत्री हिमालय की भागीरथी-टू चोटी के सफल आरोहण के साथ वहां योग करने का नया विश्व कीर्तिमान बनाया है। उन्होंने कर्नल ओमेंदर के. पवार के नेतृत्व में समुद्रतल से 19022 फीट ऊंची भागीरथी-टू चोटी पर योगाभ्यास किया। इससे पूर्व, सियाचिन ग्लेशियर क्षेत्र में समुद्रतल से 18800 फीट की ऊंचाई पर योग करने का कीर्तिमान भी भारतीय सेना के ही नाम है।  
भारतीय सेना की कैप्टन रिचन डोलमा, कैप्टन दीप्ति भट्ट, कैप्टन मुक्ता, कैप्टन अंकिता, कैप्टन नीतू, कैप्टन तान्या, कैप्टन भूमिका व कैप्टन अप्रचिता सहित नौ महिला सैन्य अधिकारियों ने बीती 22 मई को गंगोत्री से अपना अभियान शुरू किया था। इसके बाद यह दल कर्नल ओमेंदर के.पवार के नेतृत्व में भागीरथी-टू चोटी के बेस कैंप नंदनवन पहुंचा। यहां आरोहण की तैयारियों के साथ सेना की महिला अधिकारियों ने योगाभ्यास भी किया। इसी बीच मौसम खराब हुआ और नंदनवन सहित भागीरथी-टू चोटी पर जमकर बर्फबारी होने लगी।
इससे दल को रास्ते में कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा। इसी दौरान मुंबई के पर्वतारोहियों का एक दल आधे रास्ते से ही वापस लौट आया। लेकिन, भारतीय सेना की इन बहादुर महिला अधिकारियों ने हिम्मत नहीं हारी और आगे बढ़ती रहीं। कैप्टन दीप्ति भट्ट ने बताया कि भागीरथी-टू चोटी के आरोहण को हम संकल्पबद्ध थे, इसलिए दल नायक कर्नल ओमेंदर के.पवार के गतिशील नेतृत्व में बेहद कठिन चोटी भागीरथी-टू के आरोहण में सफल रहे।
कर्नल ओमेंदर ने बताया कि 19022 फीट ऊंची भागीरथी-टू चोटी पर योग करने का नया कीर्तिमान भारतीय सेना की महिला अधिकारियों ने स्थापित किया है। सियाचिन ग्लेशियर क्षेत्र में 18800 फीट की ऊंचाई पर योग करने का पिछला विश्व रिकॉर्ड भी भारतीय सेना के ही नाम है। बताया कि यह महिला अधिकारियों की सबसे बड़ी और पहली टीम है, जिसने हिमालय में इस ऊंचाई पर योगाभ्यास किया।



https://ift.tt/2t01y1t


See More

 
Top