जम्मू कश्मीर में बारिश के चलते अमरनाथ यात्रा रोक दी गई थी जिसके बाद मौसम में सुधार होने पर अब यात्रा फिर से शुरू कर दी गई है. मौसम मे सुधार होने के बाद बालटाल और पहलगाम यात्री के लिए दोनों मार्गों को खोल दिया गया है.

इलाके में प्रशासन ने बालटाल से हेलिकॉप्टर से निगरानी शुरू कर दी है. बता दें कि वार्षिक तीर्थयात्रा शुरू होने के बाद से भारी बारिश के चलते लगातार व्यवधान के कारण आज जम्मू से अमरनाथ यात्रा को निलंबित करना पड़ा.

इस बीच उधमपुर में फंसे 2,000 से अधिक तीर्थयात्री आज सुबह पहलगाम आधार शिविर के लिए रवाना हो गये. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि भगवती नगर आधार शिविर से यात्रा रोक दी गयी है. किसी भी तीर्थयात्री को आगे जाने की अनुमति नहीं है लेकिन फंसा हुआ काफिला आज सुबह दक्षिण कश्मीर स्थित पहलगाम आधार शिविर की ओर रवाना हो गया.

इस काफिले में 2,032 तीर्थयात्री हैं जिसमें 315 महिला हैं. अधिकारी के मुताबिक खराब मौसम को देखते हुये यात्रा निलंबित करने का निर्णय लिया गया. जम्मू- श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात में लगातार व्यवधान के कारण कल भगवती नगर आधार शिविर से रवाना होने वाले तीसरे जत्थे के तीर्थयात्रियों में से अधिकांश उधमपुर जिले में फंसे गये थे.

12 किलोमीटर के बालटाल मार्ग से जाने वाले 229 महिलाओं सहित 844 तीर्थयात्री कल रात अपने गंतव्य तक पहुंच गये जबकि 36 किलोमीटर लंबे पारंपरिक पहलगाम मार्ग से जाने वाले 2,032 तीर्थयात्रियों को अधिकारियों ने एहतियातन तौर पर टिकरी और उधमुपर में अन्य जगहों पर रोक दिया. पुलिस अधिकारी ने बताया कि सड़क साफ होने के बाद आज सुबह में तीर्थयात्रियों को अपने गंतव्य की ओर रवाना होने की अनुमति दे दी गयी.



https://ift.tt/2tH1sx0


See More

 
Top