26 जुलाई 2018 को कारगिल युद्ध में भारत की विजय के 19 साल पूरे होने जा रहे हैं. साल 1999 में भारत और पाकिस्तान के बीच 18 हजार फीट की ऊंचाई पर कारगिल में दोनों देशों के बीच युद्ध हुआ था.

बता दें कि ये सैन्‍य ऑपरेशन 8 मई 1999 को शुरू हुआ और 26 जुलाई 1999 को खत्म हुआ. इसमें 527 भारतीय जवान शहीद हुए थे. वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान मानता है कि उसके करीब 357 सैनिक मारे गए थे. जबकि सच्चाई ये है कि इस जंग में पाक 3 हजार जवान मारे गए थे.

पाक के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और सेना प्रमुख जहांगीर करामात के बीच 1988 में मतभेद हो गए थे. करामात की सेवानिवृत्ति के बाद किसे सेना प्रमुख बनाया जाए. इसको लेकर सरकार और सेना की बीच काफी बहस हुई.

नवाज शरीफ ने एक आम सभा में अपने ऊपर टिप्पणी की और इस बाद से गुस्सा होकर करामात ने सेना प्रमुख पद से इस्तीफा दे दिया. उसके बाद जनरल परवेज मुशर्रफ को सेना प्रमुख बनाया गया.

लेकिन बाद में उन दोनों में भी मतभेद सामने आए और परवेज राष्ट्रपति बन गए. इसी दौरान भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में कारगिल युद्ध हुआ. इसकी शुरुआत 8 मई 1999 को तब हुई जब पाक फौजियों और कश्मीरी आतंकियों को कारगिल की चोटी पर देखा गया. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान इस ऑपरेशन की तैयारी 1998 से कर रहा था.

पाक में इस युद्ध के चलते राजनितिक और आर्थिक अस्थिरता ज्यादा बढ़ गई. नवाज शरीफ की सरकार को हटाकर परवेज पाकिस्तान के वजीरे आजम बन गए. तो वहीं दूसरी तरफ भारत में इस युद्ध के चलते देशप्रेम का उबाल देखने को मिला और भारत की अर्थव्यवस्था को काफी मजबूती मिली. भारत सरकार ने रक्षा बजट और ज्यादा बढ़ाया.



https://ift.tt/2JN3h0m


See More

 
Top