देहरादून- मानसून के साथ-साथ उत्तराखंड में डेंगू ने भी दस्तक दे दी है। इसकी शुरुआत इस बार कुमाऊं क्षेत्र से हुई है। नैनीताल और ऊधमसिंहनगर के छह मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। जिनमें पाच से 50 साल तक के मरीज शामिल हैं। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है।

डेंगू का पहला मामला जुलाई प्रथम सप्ताह में सामने आया

प्रदेश में डेंगू का पहला मामला जुलाई प्रथम सप्ताह में सामने आया था। जनपद नैनीताल में 23 वर्षीय युवती में डेंगू की पुष्टि हुई। वहीं स्वास्थय विभाग का कहना है कि युवती हैदराबाद गई थी और संभवत: वहीं इस बीमारी की जद में आई।

नैनीताल और ऊधमसिंहनगर में छह मरीजों में डेंगू की पुष्टि

साथ ही नैनीताल और ऊधमसिंहनगर में छह मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। विभाग के अनुसार इस बीमारी की जद में आए मरीजों में कई बच्चे भी शामिल हैं। जनपद नैनीताल में पांच वर्षीय लड़की, जबकि ऊधमसिंहनगर में आठ साल के एक लड़के में डेंगू की पुष्टि हुई। मामले सामने आने के बाद रुद्रपुर, लालकुआं, शनि बाजार समेत आसपास के तमाम क्षेत्र स्वास्थ्य विभाग के रडार पर हैं।

पिछले साल डेंगू के 849 मामले सामने आए

बता दें कि पिछले साल डेंगू के 849 मामले सामने आए थे, जबकि वर्ष 2016 में यह आंकड़ा 2046 पहुंच गया था। जबकि, चार मरीजों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी थी। स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. टीसी पंत के अनुसार डेंगू को लेकर एहतियातन कदम उठाए जा रहे हैं।



https://ift.tt/2v1Rrdx


0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top