किच्छा: जिला मुख्यालय से सिर्फ 15 किमी दूर पर स्थित खुर्पिया फार्म की सरकारी जमीन पर लगे पेडों पर लकड़ी तस्करों ने ऐसा कारनामा कर दिखाया कि इसकी कानों कान खबर किसी को नहीं लगी. जी हां लकड़ी तस्करों ने दर्जनों सागौन और शीशम के पेड़ों पर इस कदर आरी चलाई की इसकी भनक किसी को भी नहीं लगने दी. इससे राजस्व विभाग को लाखों रूपये का चूना लगा।

आपको बता दें 6 महीने में तस्करों ने फार्म से लगभग साढे चार दर्जनो सागौन एंव शीशम के पेडों पर आरी चलाकर कर पेड़ों को हानि पहुंचाई लेकिन इसकी भनक किसी को भी नहीं लगी. अब ये रात के अंधेरे में किया गया या दिन के उजासे में ये कह पाना मुश्किल है. क्यों कि अगर रात के अंधेरे में ये काम किया गया तो पुलिस और वन विभाग के कार्यप्रणाली पर कई सवालिया निशान खड़े होने लगे हैं औऱ अगर दिन के उजाले में ये काम किया गया तो जरुर इसमें कई लोगों की मिलीभगत हो सकतीहै.



https://ift.tt/2mDiMPG


0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top