डोईवाला-( जावेद हुसैन)- राजस्थान गंगनहर में कुमाऊं रेजीमेंट का सिपाही प्रशांत डोईवाला के नागल ज्वालापुर गांव डोईवाला का रहने वाला है, प्रशांत मंगलवार को 40 दिन की छुट्टी पूरी करने के बाद अपने घर से यूनिट के लिए निकला था जो कि अभी तक अपनी यूनिट में नहीं पहुंच पाया है, परिवार और यूनिट की तरफ से गुमशुदा जवान की लगातार तलाश की जा रही है लेकिन अभी तक इस जवान की कोई जानकारी नहीं मिल पाई।

परिजन प्रशांत की गुमशुदगी की FIR दर्ज कराई लेकिन नहीं की गई अर्जी स्वीकार

गुमशुदा सिपाही प्रशांत के परिजनों का कहना है कि जब परिजन प्रशांत की गुमशुदगी की FIR कराने डोईवाला थाने पहुँचे तो पुलिस द्वारा उनकी अर्जी स्वीकार नहीं की गई। पुलिस का कहना है कि प्रशांत हरिद्वार से ट्रेन मैं बैठा था और FIR भी वहीं पर दर्ज करवानी पड़ेगी। पुलिस के इस गैर जिम्मेदाराना रवैया से परिजन पिछले 2 दिन से परेशान चल रहे हैं जिससे पुलिस की कार्यप्रणाली भी सवालों के घेरे में है.

परिवार बेटे की किडनैपिंग की आशंका 

डोईवाला निवासी प्रशांत के परिवार से  कुछ लोग तलाश के लिए यूनिट गए हुए हैं. जिन्होंने जानकारी दी की यूनिट से 2 किलोमीटर दूर प्रशांत का सामान से भरा बैग मिला है जो कि असमंजस की स्थिति पैदा करता है. प्रशांत के परिजनों को शक है कि जिस प्रकार से BSF के 10 जवान किडनेप हो चुके हैं कहीं उनका बेटा भी किडनैप कर लिया गया हो।



https://ift.tt/2Nc2R6Z


See More

 
Top