हरिद्वार : हरिद्वार जिले में पंचायत का एक बेतुका फरमान देखने को मिला है। पंचायत ने प्रेम विवाह करने वाले जोड़ों को एक हफ्ते के भीतर गांव छोड़ने की सज़ा सुना दी है। पंचायत का कहना है कि अंतरजातीय विवाह करने वाले युवक-युवती माहौल खराब कर रहे हैं।

पथरी थाना क्षेत्र के बहादरपुर जट गांव में ग्रामीणों ने एक पंचायत का आयोजन किया। जिसमें पिछले कुछ महीनों में प्रेम विवाह करने वाले युवक-युवतियों के परिजनों को भी बुलाया गया। पंचायत के जिम्मेदार लोगों ने यह फैसला सुनाया कि अंतरजातीय प्रेम विवाह करने के बाद गांव में रहने वाले जोड़ों से गांव का माहौल खराब हो रहा है। इसलिए गांव में यह परंपरा बंद करनी होगी।

उन्होंने गांव में रहने वाले ऐसे सभी शादीशुदा जोड़ों को एक हफ्ते के भीतर गांव से बाहर अपना ठिकाना ढूंढने के लिए कहा है। हालांकि, पुलिस को इस पंचायत की भनक नहीं लगी है। मगर एसएसपी कृष्ण कुमार वीके का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट इस तरह कि खाप और पंचायतों को खारिज कर चुका है। अगर किसी के साथ जोर जबरदस्ती की जाती है या फिर गांव निकाला दिया जाता है, तो संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जरूरत पड़ी तो प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा भी मुहैया कराई जाएगी।



https://ift.tt/2uKiUB6



0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top