ऋषिकेश : उत्तराखंड में हो रही लगातार से तीर्थनगरी का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। दूसरे दिन भी सौंग नदी का जलस्तर बढ़ने से गौहरीमाफी के दो सौ से अधिक परिवार नदी की दो धाराओं के बीच फंसे हैं। रविवार को एसडीआरएफ के साथ एनडीआरएफ को भी रेस्क्यू में लगाया गया। लेकिन जलस्तर बढ़ने से रेस्क्यू नहीं किया जा सका। एक गर्भवती महिला को जरूर एनडीआरएफ ने अस्पताल पहुंचाया। गांव का संपर्क कटने से ग्रामीण परेशान हैं।

तटबंध तोड़कर सौंग नदी का पानी गांव में घुसा

गौहरीमाफी में रविवार को भी तटबंध तोड़कर सौंग नदी का पानी गांव में घुस गया। नदी के दो धाराओं में बंटने से गांव में करीब दो सौ से अधिक परिवार फंसे है। गांव का संपर्क दूसरे इलकों से कट गया है। रविवार को एसडीआरएफ के साथ एनडीआरएफ भी मौके पर तैनात की गई। जिन्होंने आवश्यक सामग्री भी गांव में भिजवाई। लेकिन जलस्तर बढने से ग्रामीणों को गांव से नहीं निकाला जा सका। सुबह के समय टीम ने एक गर्भवती महिला को रेस्क्यू कर सरकारी अस्पताल पहुंचाया। एसडीएम हरगिरी अधिकारियों के साथ मौके पर डेरा डाले है।

एसडीएम ने बताया कि देर शाम जलस्तर में कमी होने लगी थी। उन्होंने बताया कि नदी के दो भागों में बंटने से परेशानी आ रही है।बताया कि सोमवार को जेसीबी की मदद से नदी के बहाव को फिर डायवर्ट किया जायेगा।

तीन घंटे नही चली चीला मार्ग पर गाड़ियां 

लगातार हो रही बारिश आफत लेकर आई। रविवार दोपहर बरसाती बीन नदी उफनने से चीला बैराज वैकल्पिक मार्ग तीन घंटे बाधित रहा। तो नीलकंठ मोटर मार्ग पर मलबा गिरने से एक घंटे गाडियों की आवाजाही ठप रही। शिवभक्त जाम से भी जूझे। गंगा भी चेतावनी निशान के करीब से होकर बही।बारिश से शहर व गांव के लोग हलकान रहे।

गंगा व सौंग उफान पर रही तो शहर का ड्रेनेज सिस्टम फेल होने से गंदा पानी सड़कों पर बहता रहा। गली-मोहल्ले तालाब में तब्दील होने से लोग घरों में ही कैद रहे। इन स्थानों पर सड़क पर बहा पानीपुरानी चुंगी,आटोनोमस कॉलेज, शांतिनगर, सर्वहारानगर, रेलवे मार्ग, घाट रोड़, चौदहबीघा, कैलाश गेट, मायाकुण्ड, प्रगति विहार, तहसील मार्ग,बैराज मार्ग।जलपुलिस ने तट पर बसे लोगों को अलर्ट कियाजलपुलिस के जवानों ने तट परासे लोगों को अलर्ट किया। गंगा व चन्द्रभागा नदी तट पर बसे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा गया। गंगा का जलस्तर लगातार घट-बढ़ रहा है। जबकि बरसाती नदी चन्द्रभागा भी उफान पर रही। ऋषिकेश कोतवाल प्रवीन सिंह ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से तट पर बसे लोगों को अलर्ट किया गया है।





See More

 
Top