देहरादून- रविवार को सहसपुर थाना पुलिस ने युवती की अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने और पैसों की डिमांड करने के आरोप में चार फर्जी पत्रकारों समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया. जानकारी में पता चला की युवती विकासनगर में किराये पर रहती है। जिसके पति का 3 वर्ष पहले पति का देहांत हो चुका है और खुद टीबी की मरीज है। और आर्थिक तंगी से गुजर रही है.

एक आरोपी ने की शारीरिक संबंध बनाने की बात, युवकी तैयार

पीड़िता से पूछताछ में युवती ने बताया कि वो अपनी छोटी बहन जो की सहसपुर क्षेत्र में चाउमीन-मोमोज की दुकान चलाती है के पास अपने इलाज के लिए पैसे मांगने गई थी. तभी वहां पर मौजूद एक व्यक्ति ने उसे पैसे देने को कहा लेकिन बदले में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने को कहा.

पीड़िता के कमरे में जाने के बाद व्यक्ति ने अपने फ़ोन से मैसेज किया

युवती ने बताया कि उसे पैसों की सख्त जरूरत थी इसलिए उसकी बात मान ली औऱ जिसके बाद पीड़िता उस व्यक्ति के साथ चली गई. साजिश के तहत चार अन्य आरोपियों ने युवती के साथ गए युवक को मैसेज कर बताने को कहा. पीड़िता के कमरे में जाने के बाद व्यक्ति ने अपने फ़ोन से मैसेज किया जिस पर तुरंत वहाँ पर 04 अन्य लोग जिनके गले मे न्यूज़ चैनल की आई डी कार्ड थे और हाथ मे एक माइक था जिनमे से एक ने अपने मोबाइल से मेरी नग्न अवस्था की वीडियो बनाई और वीडियो बनाकर दिखाया. साथ ही उस वीडियो को अपने एक अन्य साथी के मोबाइल पर व्हाट्सएप के द्वारा भेजा और ये पांचो लोग कहने लगे हम वेलकम न्यूज़ के पत्रकार है. साथ ही महिला को ब्लैकमेल करते हुए 1 लाख रुपये की डिमांड की औऱ न देने पर वीडियो वायरल करने और पुलिस के द्वारा पकड़वाने की धमकी दी गई.

बहन ने मंगलसूत्र गिरवी रखके आरोपियों को दिए पैसे

पीड़िता ने बताया कि वह डर गई औऱ जाकर सारी बात अपने जीजा और बहन को बताई. लेकिन लगातार पांचों द्वारा धमकाने के चलते पीड़िता की बहन ने अपना मंगलसूत्र गिरवी रखा और कुछ पैसे उधार लेकर इन पांचों को 25 हजार रुपये नकद और 25 हजार रुपये का एक चेक आरोपियों को दिया. साथ ही इसकी शिकायत थाना सहसपुर पर में. जिसके बाद तत्काल अंतर्गत धारा 354/384 भादवि एवम 67 आई टी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया।

एसएसपी ने लिया मामले को संज्ञान में

पूरी घटना से एसएसपी को अवगत कराया गया जिसपर एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने घटना का संज्ञान लेते हुए घटना में शामिल अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिए. जिस पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण और विकासनगर छेत्रधिकारी के निकट पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष सहसपुर के नेतृत्व में पुलिस टीम के द्वारा चैनल के संबंध में जानकारी इक्कठ्ठी की गई. पकड़े गए पांचो आरोपियों की पीड़िता ने शिनाख्त की, जिसके बाद पांचो को गिरफ्तार किया गया।

साजिश के तहत की गई सारी तैयारी

पूछताछ में पता चला कि पकड़े गए चारों फर्जी पत्रकारों ने अपनी सोची समझी साजिश के तहत अपने पांचवे साथी शुभम को उक्त स्थान पर ग्राहक बनाकर भेजा और चारों पत्रकारने  शुभम को बताया कि जब महिला नग्न अवस्था में हो तो वह तुरंत उनको मैसेज कर दे शुभम ने ऐसा ही किया और ये चारों लोग पहले से ही तैयार बैठे थे और वीडियो बनाते हुए अंदर गए. पीड़िता का नग्न अवस्था का वीडियो बनाकर उसको डरा धमकाकर वीडियो को सोशल मीडिया में भेजने का कहकर ब्लैकमेल करने लगे औऱ पैसों की डिमांड करने लगे.।

नाम पता अभियुक्तगण

 1 . नवीन कुमार पुत्र यशपाल सिंह निवासी मोहल्ला अजीतनगर थाना विकासनगर देहरादुन उम्र 39 वर्ष हाल राइटर वेलकम न्यूज़।

 2 . रवि कुमार पुत्र महेंद्र कुमार निवासी ग्राम बेरागीवाला थाना सहसपुर देहरादुन उम्र 30 वर्ष हाल प्रभारी पछवादून वेलकम न्यूज़ ।

 3 . हरीश गर्ग पुत्र अशोक गर्ग निवासी डाकपत्थर थाना विकासनगर देहरादून उम्र 26 वर्ष हाल प्रभारी उत्तराखंड वेलकम न्यूज़ ।

 4 . अशद पुत्र अफजल निवासी ग्राम सहसपुर थाना सहसपुर देहरादुन उम्र 22 वर्ष हाल स्टाफ रिपोर्टर वेलकम न्यूज़।

 5 . शिवम पुत्र राजेश कुमार निवासी टीचर कॉलोनी सहसपुर थाना सहसपुर देहरादुन उम्र 20 वर्ष।

 आपराधिक इतिहास

अभियुक्त हरीश गर्ग पूर्व में हत्या के अपराध में वर्ष 2015 में हरकेश मर्डर केस में थाना सहसपुर से जेल जा चुका है अन्य आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

बरामदगी.

1 . पच्चीस (25) हजार नकद।

 2 . मूल चेक 25 हजार इन फेवर ऑफ नवीन कुमार ।

 3 . 04 मोबाइल फ़ोन जिनमे पीड़िता की नग्न वीडियो बनाने और उसको व्हाट्सएप पर भेजने की पुष्टि हुई।

 4 . घटना में प्रयुक्त कार आल्टो नंबर DL9CP5385

 5 . चारों अभियुक्तगण के वेलकम न्यूज़ के आईडी कार्ड।

 6 . एक माइक आईडी वेलकम न्यूज़।

 7 . एक कैमरा सोनी कंपनी

 पुलिस टीम.

 1 . नरेश सिंह राठौड़ थानाध्यक्ष सहसपुर।

 2 . उ0नि0 कवींद्र राणा, बिनेश कुमार, लक्ष्मी जोशी।

 3 . आरक्षी संदीप, इजलाल, प्रवीण, श्रीकांत।





See More

 
Top