मेघालय के मुख्यमंत्री और नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के उम्मीदवार कोनराड संगमा ने सोमवार को दक्षिण तुरा विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में विशाल अंतर से जीत दर्ज की. लेकिन पूर्व स्पीकर मार्टिन डांगो को रानीकोर विधानसभा क्षेत्र से यूनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) के पियूश मरवीन के हाथों शिकस्त का सामना करना पड़ा. डांगो कांग्रेस से इस्तीफा देकर एनपीपी में शामिल हुए थे.

कोनराड ने कांग्रेस की शारलोट डब्लू मोमिन को करीब 8,421 वोटों से हरा कर जीत दर्ज की. कोनराड दिवंगत पुरनो ए. संगमा के सबसे छोटे बेटे हैं. एनपीपी उम्मीदवार ने 13,656 वोट हासिल किए जबकि शारलोट को 5,235 मत प्राप्त हुए. मेघालय के 12वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले कोनराड 60 सदस्यीय विधानसभा के गैर निर्वाचित सदस्य थे. कोनराड ने मीडिया से कहा, “मैंने इसलिए जीत दर्ज की, क्योंकि लोगों ने विकास के लिए वोट किया.”

वहीं रानीकोर में डांगो को यूडीपी के पियूश मारवीन के हाथों 2,896 मतों से हार झेलनी पड़ी. डांगो लगातार पांच बार से रानीकोर का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. मारवीन को 13, 183 वोच मिले जबकि डांगो को 10, 287 वोट मिले. पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट के उम्मीदवार पी. एन. सीयम और कांग्रेस के जैकियूष ए. संगमा को क्रमश 1,978 और 938 वोट मिले.

यूडीएफ और पीडीएफ दोनों ही एनपीपी नीत मेघालय डेमोकेट्रिक गठबंधन सरकार का हिस्सा है. इस जीत के साथ 60 सदस्यीय मेघालय विधानसभा में एनपीपी और यूडीपी की संख्या बढ़कर क्रमश 20 और आठ हो गई है.





See More

 
Top