देहरादून- उत्तराखंड में टेलेंट की कमी नहीं हर क्षेत्र में उत्तराखंडवासियों ने अपना लोहा मनवाया है. वहीं भारतीय सेना में रहकर देश की सेवा करने की बात हो या देश की रक्षा के लिए शहादत की उत्तराखंड सेना के जवान(गढ़वाल राइफल) हमेशा से आगे रहे हैं.

गढ़वाल राइफल के सैनिकों ने निकाला 1000 लोगों को सुरक्षित बाहर

वहीं अगर केरल में आए आंसुओं की बात करें तो वहीं भी गढ़वाल राइफल के सैनिक लोगों के लिए फरिश्ते से कम नहीं साबित हुए. जीहां केरल की बाढ़ में फंसे लोगों के लिए 13 गढ़वाल राइफल्स के जवान जिंदगी का पुल बन गए हैं। जवानों ने अब तक करीब 1000 हजार लोगों सुरक्षित जगह पहुंचाया औऱ उनके लिए फरिश्ते बने. केरल में आई बाढ़ ने वहां के लोगों को जरुर सहमाया लेकिन आंसू पोंछने और मदद का हाथ बढ़ाने वालों की भी कमी नहीं। बच्चे, बूढ़े, जानवर सब रोते बिलखते उनके चेहरे पर दर्द और डर साफ झलक रहा है जिसे कई सेना के जवान सहित कई सुरक्षाकर्मी कम करने का काम कर रहे हैं.

आपको बता दें त्रिवेंद्रम में तैनात 13 गढ़वाल राइफल्स के जवानों ने अब तक एक हजार से ज्यादा बाढ़ग्रस्त लोगों को मौत के मुंह से निकाला है और एतिहासिक कामयाबी हासिल की है। बाढ़ग्रस्त लोगों को बचाने की मुहिम कमान अफसर यशदीप सिन्हा और ले. कर्नल अरविंद कुमार के नेतृत्व में अभी जारी है। जवानों ने न सिर्फ लोगों को बाढ़ से बचाया है बल्कि बच्चों और बुजुर्गों को चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराने में भी मदद कर रहे हैं। इस मुहिम में नायब सूबेदार भरत सिंह, मनबर सिंह, सूबेदार रणजीत सिंह, राइफल मैन कुलदीप, गोविंद सिंह की भूमिका सराहनीय है।

त्रिवेंद्र सरकार ने केरल बाढ़ पीड़ितों को 5 करोड़ रुपये देने की घोषणा की

वहीं सीएम त्रिवेंद्र रावत ने भी केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे हाथ बढ़ाया. जी हां त्रिवेंद्र सरकार ने केरल बाढ़ पीड़ितों को 5 करोड़ रुपये देने की घोषणा की.

केरल में बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए ओएनजीसी कदम बढ़ाया है

केरल में बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए ओएनजीसी कदम बढ़ाया है। इस कड़ी में ओएनजीसी ने प्रभावितों के लिए तीन हेलीकॉप्टर से राहत सामग्री भेजी है। इसमें दो हेलीकॉप्टर मुंबई और एक हेलीकॉप्टर काकीनाड़ा से भेजा गया है। इसके अलावा ओएनजीसी ने चार चिकित्सकों को भी केरल भेजा है। इसके अलावा दवाईयां, खाद्य सामग्री, बेडशीट व अन्य राहत सामग्री पहले ही ओएनजीसी की ओर से भेजी जा चुकी है। ओएनजीसी के सीएमडी शशि शंकर ने कहा कि केरल आपदा प्रबंधन के लिए हरसंभव मदद उपलब्ध कराई जा रही है।





See More

 
Top