• उत्तराखंड में NDRF की स्थायी यूनिट की स्थापना आवश्यक
देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
NEW DELHI : उत्तराखंड से राज्य सभा सांसद  अनिल बलूनी ने सोमवार को उच्च  सदन में अपना उदबोधन देते हुए उत्तराखंड में बरसात के कारण हो रही आपदा की गंभीर स्थितियों का सदन में उठाते हुए केंद्र सरकार से उत्तराखंड राज्य के लिए विशेष राहत पैकेज देने पर विचार करने को कहा।
राज्य सभा सांसद बलूनी ने कहा कि उत्तराखंड में निरंतर वर्षा, अतिवृष्टि, बादल फटने और भूस्खलन के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त है। जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभाव दिखाई दे रहे हैं। विगत कुछ वर्षों से अतिवृष्टि व बादल फटने की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है। 
सांसद बलूनी ने कहा कि इन प्राकृतिक आपदाओं के कारण राज्य में जान-माल का भारी नुकसान हो रहा है। बड़ी संख्या में भवनों, कृषि भूमि, मार्गों एवं मवेशियों का नुकसान हो रहा है। लोग जहां-तहां फंसे हुए हैं। अतिवृष्टि और बादल फटने के कारण विद्युत लाइनें, नहरें, गूल, पेयजल लाइनें, संचार लाइनें, संपर्क मार्ग ध्वस्त हैं। 
उत्तराखंड सरकार पूरी क्षमता से जनता को राहत पहुंचाने के कार्यों में पूरे मनोयोग से लगी हुई है किंतु राज्य सरकार की संसाधन क्षमता सीमित है। ऐसी परिस्थितियों में आपदा प्रभावी उत्तराखंड को राहत पैकेज पर विचार किया जाना चाहिए। उत्तराखंड भोगौलिक रूप से दुर्गम और प्राकृतिक रूप से संवेदनशील राज्य है। यहाँ कभी भी कोई बड़ी घटना घट सकती है।
सांसद बलूनी ने कहा कि उत्तराखंड में NDRF की स्थायी यूनिट की स्थापना आवश्यक है ताकि आपदा की घड़ी में संकट में फंसे नागरिकों को समय पर सहायता मिल सके। 

The post राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी ने की राज्य के लिए विशेष राहत पैकेज की मांग appeared first on Dev Bhoomi Media.





See More

 
Top