देहरादून- देहरादून पूर्व आरटीओ सुधांशु गर्ग को हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा. पौड़ी में हुए ट्रांसफर को लेकर सुधांशु गर्ग द्वारा डाली गई याचिका को हाईकोर्ट ने गलत बताते हुए खारिज कर दी है. जिससे जरुर देहरादून के पूर्व आरटीओ को बड़ा झटका लगा.

पौड़ी में ट्रांसफर किए जाने से थे नाराज, सरकार के फैसले को दी थी चुनौती

दरअसल देहरादून से दुर्गम यानी पौड़ी में ट्रांसफर किए जाने से देहरादून के पूर्व आरटीओ सुधांशु गर्ग खासा नाराज थे जिसके बाद उन्होंने कोर्ट की शरण ली थी औऱ कहा था कि मनमाने ढंग से उनका ट्रांसफर पौड़ी किया गया है. देहरादून के पूर्व आरटीए सुधांशु गर्ग ने अपने तबादले को गलत बताते हुए नैनीताल हाईकोर्ट में याचिका डाली थी…सुधांशु गर्ग का कहना था कि उनका तबादला एक्ट के नियमों के विरूद्ध हुआ है जिसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट मेंं सरकार के फैसले को चुनौती दी थी और हाईकोर्ट में याचिका डाली थी. जिसे आज कोर्ट ने खारिज करते हुए याचिका को सही नहीं माना.

धूमाकोट बस हादसे के बाद हुए थे कई अधिकारियों के तबादले

आपको बता दें धूमाकोट बस हादसे (जिसमें 48 लोगों की जानें गई थी) के बाद 6 जून को सरकार ने कई अधिकारियों को इधर से उधर किया था. जिसमें देहरादून के आरटीओ सुधांशु गर्ग का तबादला देहरादून से पौंड़ी जो दुर्गम क्षेत्र में आता है वहां किया था साथ ही देहरादून में दिनेश पेठोई को पदभार सौंपा था. लेकिन सुधांशु गर्ग अपने ट्रांसफर से नाराज थे.

दिनेश चंद पठोई के सर से टली बला

वहीं इसके बाद देहरादून के नए आरटीओ दिनेश चंद पठोई ने राहत की सांस ली. क्योंकि हाईकोर्ट ने सुधांशु गर्ग की याचिका खारिज कर दी है जिससे वापस पौड़ी जाने की बला पठोई के सर से टल गई.

http://उत्तराखंड : दुर्गम में हुआ तबादला तो बीमार पड़ गए परिवहन विभाग के 3 अधिकारी





See More

 
Top