पिथौरागढ़-स्कूल में अचानक दस छात्राएं एक साथ बेहोश हो गर्इ। जिससे स्कूल में हड़कंप मच गया। आनन-फानन छात्राओं को डॉक्टर के पास लाया गया। जहां उपचार के बाद भी कोर्इ सुधार नहीं हुआ। वहीं, चिकित्सों ने कहा कि ये मास हिस्टीरिया है, हार्मोंस परिवर्तन के दौरान अक्सर किशोरियों में इस तरह के लक्षण दिखते हैं। जो अपने आप ठीक हो जाता है।

दरअसल, राजकीय इंटर कॉलेज अस्कोट में शनिवार को क्लास में पढ़ाई चल रही थी। अचानक दो छात्राएं चिल्लाते हुए रोने लगी। देखते ही देखते क्लास में बैठी करीब आठ और छात्राएं भी उनकी ही तरह चिल्लाने और रोने लगी। जिसके बाद कुछ अजीब हरकतें करते हुए वो सभी बेहोश हो गईं।

इस घटना को लेकर पूरे विद्यालय में हड़कंप मच गया। शिक्षक बेहोश छात्राओं को अस्कोट बाजार स्थित एक क्लीनिक ले गए। जहां उपचार के बाद भी छात्राओं की हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। यहां तक कि छात्राओं को भभूत तक लगा दी गर्इ। हालांकि कुछ देर बाद छात्राएं खुद-ब-खुद ठीक हो गर्इं।





See More

 
Top