रविवार को हरियाणा पुलिस ने रेवाड़ी सामूहिक दुष्कर्म मामले के दो मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों में पंकज और मनीष शामिल हैं जो पिछले दो सप्ताह से फरार थे. इन्हें महेंद्रगढ़ जिले के सतनाली से गिरफ्तार किया गया.

19 वर्षीया सीबीएसई टॉपर का 12 सिंतबर को कोचिंग जाते समय अपहरण कर दुष्कर्म किया गया था. इससे पहले एसआईटी ने तीसरे आरोपी निशू और दो अन्य शख्स को गिरफ्तार किया था. इन दो शख्स में ट्यूबवेल क का मालिक दीनदयाल है, जहां महेंद्रगढ़ में इस घटना को अंजाम दिया गया जबकि दूसरा शख्स संजीव कुमार है.

इन दोनों ने अपराध की जानकारी होने के बावजूद पुलिस को सूचित नहीं किया. पुलिस ने इसके पहले फरार आरोपियों के बारे में जानकारी मुहैया कराने के लिए एक लाख रुपये ईनाम की घोषणा की थी. सभी आरोपी कनीना गांव के निवासी हैं.

पीड़िता ने हमलावरों की पहचान कर ली है. उसने और उसके परिजनों ने शुरू में पुलिस पर आरोप लगाया था कि वह कार्रवाई नहीं कर रही है और मामले को गंभीरता से नहीं ले रही है.

पीड़िता ने कहा कि आरोपियों ने उसे कुछ नशीला पेय पदार्थ पिलाया था. इसके बाद आरोपियों ने खेत में एक कमरे में उसके साथ दुष्कर्म किया. आरोपियों ने बेहोशी की हालत में पीड़िता को गांव के पास एक बस स्टॉप पर छोड़कर फरार हो गए थे.

Haryana: Pankaj and Manish, the two prime accused in Rewari gangrape case have been arrested pic.twitter.com/Cq6WebtKcd

— ANI (@ANI) September 23, 2018





See More

 
Top