देहरादून : बहुचर्चित राजेश सूरी हत्याकांड मामले में एक बार फिर एसआईटी का गठन किया गया है। अभी तक कोई निष्कर्ष ना निकलने की वजह से तीसरी बार एसआईटी का गठन किया गया है। राजेश सूरी हत्याकांड के बाद उनकी बहन रीता सूरी क़ानूनी लड़ाई लड़ रही है। ज़िला कोर्ट से हाईकोर्ट तक सुनवाई के बाद अब एक बार फिर से एसआईटी गठित कर निष्कर्ष पर पहुंचने की कोशिश की जा रही है।

ग़ौरतलब है की पहले भी 2 बार एसआईटी की गठित की जा चुकी है लेकिन सूरी हत्याकांड और घोटालों से जुड़े मामले अभी तक पुलिस उजागर करने में नाक़ामियाब रही है। आपको बता दें की अधिवक्ता राजेश सूरी ने प्रदेश में कई घोटालों को उजागर किया था और एक जांच रिपोर्ट में बाद में पता चला था की अधिवक्ता सूरी की मौत ज़हर खाने से हुई है, उसके बाद से सूरी की बहन रीता सूरी लगातार न्याय के लिए जंग लड़ रहे हैं।

देहरादून एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने कहा की एसआईटी मामले पर काम कर रही है और प्रक्रिया के तहत ही काम किया जा रहा है।





See More

 
Top