उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के शहर कोतवाली क्षेत्र में पंजाब से आए परिचितों के प्रसाद के नाम पर जहर देने से जहां सेवानिवृत्त उपप्रधानाचार्य की मौत हो गई, वहीं परिवार के चार सदस्य बेहोश मिले, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

आशंका जताई जा रही है कि जहर देकर घर में लूटपाट भी की गई है. घटना को अंजाम दे पंजाब से आए दो से चार लोग फरार बताए जा रहे है. पुलिस जांच में जुटी है.

पुलिस के मुताबिक, शहर कोतवाली के वासलिगंज इलाके में रहने वाले डा. गोपाल कृष्ण सिन्हा राजस्थान इंटर कालेज के उपप्रधानाचार्य पद से सेवानिवृत्त हुए थे. वह यहां अपने परिवार के साथ रह कर होम्योपैथी की प्रैक्टिस करते थे. सोमवार देर रात पंजाब से आए कुछ परिचितों ने परिवार के पांचों सदस्यों को प्रसाद के बहाने जहर देकर बेहोश कर दिया और घर में रखे जेवर समेत लाखों का माल लेकर फरार हो गए.

घटना का पता मंगलवार सुबह उस वक्त लगा जब पड़ोसियों ने घर की स्थिति देखी और पुलिस को सूचना दी. सूचना मिलने पर कोतवाल अरुण यादव पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और अचेतावस्था सभी को मंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया, जहां गोपाल कृष्ण की मौत हो गई, जबकि उनकी पत्नी, बेटा, बहू व पोती का इलाज चल रहा है. पुलिस मामले की जांच की जा रही है.





See More

 
Top