उत्तर प्रदेश सरकार महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर 150 कैदियों को रिहा करेगी। हालांकि, यह रिहाई पांच अक्टूबर को होगी. अधिकारियों के मुताबिक, केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित मानक पूरे करने वाले कैदियों के नाम तय हो गए हैं और उनकी रिहाई की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. दरअसल, केन्द्र सरकार ने गांधी जयंती, गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस पर देश की जेलों में बंद सजायाफ्ता कैदियों की रिहाई के संदर्भ में एक सर्कुलर जारी किया था.

इसी क्रम में शासन के निर्देश पर आईजी जेल चन्द्र प्रकाश ने जेलों से रिहाई के मानक पूरा करने वाले कैदियों का ब्यौरा मांगा था.

अपर महानिरीक्षक जेल शरद कुमार के मुताबिक 150 कैदियों को गांधी जयंती पर छोड़ा जा रहा है. कानूनी औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं. रिहाई के पात्र वे कैदी हैं, जो अपनी सजा अवधि का 66 फीसदी हिस्सा भुगत चुके हैं.

उन्होंने बताया कि इसके अलावा 60 वर्ष या इससे अधिक उम्र के पुरुष कैदी व 55 वर्ष या इससे अधिक उम्र की महिला कैदी पात्र हैं.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top