एक रेहड़ी वाले के बैंक खाते में 225 करोड़ रुपये मिलने के बाद वह जांच एजेंसियों के निशाने पर आ गया है।मामला कराची पाकिस्तान का है. इस मामले को पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के अरबों रुपये के मनी लांड्रिंग घोटाले से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी की ओर से नोटिस मिलने के बाद कराची के अब्दुल कादिर को अपने बैंक खाते में 225 करोड़ रुपये होने की बात पता चली। कादिर को उसके भाई ने जांच एजेंसी से नोटिस आने और तलब किए जाने की जानकारी दी थी। बकौल कादिर वह दुनिया का सबसे दुर्भाग्यशाली व्यक्ति है। उसके खाते में 225 करोड़ रुपये हैं, लेकिन वह अपना जीवन स्तर सुधारने के लिए एक भी पैसा खर्च नहीं कर सकता।

पूर्व राष्ट्रपति जरदारी और उनकी बहन फरयाल तालपुर के मनी लांड्रिंग घोटाले से जुड़ा

सूत्रों के अनुसार कादिर के खाते में जो पैसा है, वह पूर्व राष्ट्रपति जरदारी और उनकी बहन फरयाल तालपुर के मनी लांड्रिंग घोटाले से जुड़ा है। उन्होंने कहा कि सिंध इलाके के सबसे बड़े घोटाले की जांच के दौरान खाते में जमा इस रकम की जानकारी सामने आई। जांच एजेंसी का कहना है कि अब्दुल कादिर जैसे कई लोग हैं, जिन्हें पता ही नहीं है कि उनके खातों में भारी रकम जमा की गई है।

देश भर में इस तरह के 500 खाते की उम्मीद

ऐसे खाते ज्यादातर गरीब तबके के लोगों और मजदूरों के नाम पर खोले गए हैं। जांच अधिकारियों के अनुसार देश भर में इस तरह के 500 खाते हो सकते हैं। गौरतलब है कि पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय की ओर से सितंबर के पहले हफ्ते में एक संयुक्त जांच समिति का गठन किया गया था। यह समिति अरबों रुपये के मनी लांड्रिंग मामलों की जांच कर रही है।





See More

 
Top