मंगलवार को मुंबई में एक जानलेवा दुर्घटना में एक नाबालिग लड़की सहित तीन लोग उस समय डूब गए, जब कुएं पर सुरक्षा के लिए लगाया गया ग्रिल अचानक टूट गया, जिस पर तीनों खड़े थे.

एक अधिकारी ने बताया कि यह दुर्घटना विले पारले पूर्व में स्थित लगभग 30 फुट गहरे कुएं पर आयोजित एक पूजा कार्यक्रम के दौरान घटी. कई अन्य महिलाएं और बच्चे भी उस समय वहां मौजूद थे.

बीएमसी के एक अधिकारी के अनुसार, 20 फुट घेरे वाले कुएं पर लगी लोहे की सुरक्षा ग्रिल टूट गई, जिस पर सभी खड़े थे. कई श्रद्धालु गहरे कुएं में गिर गए. यह दुर्घटना शाम सात बजे से थोड़ा पहले घटी.

स्थानीय नागरिकों ने कम से कम दो लोगों को बचा लिया, जिसमें एक चार वर्षीय बच्चा और एक किशोरी शामिल है. कम से कम एक महिला कथित रूप से लापता है.

अग्निशमन दल घटनास्थल पर पहुंच गया और तीनों शवों को कुंए से बाहर निकाला. मृतकों की पहचान माधवी वी. पांडे (49), रेणु यू. यादव (20) और तीन साल की बच्ची दिव्या के रूप में हुई है.

घायलों को कूपर अस्पताल में भर्ती कराया गया है और बचावकर्मियों ने कुएं को खाली करने का अभियान शुरू किया है.





See More

 
Top