केदारनाथ आपदादेहरादून : केदारनाथ में आई आपदा को आखिर कौन भूल सकता है. वो खतरनाक मंजर आज भी आंखों के सामने आता है तो दिल दहल जाता है. एक ऐसी भयानक आपदा जिसने 4000 लोगों को अपने अंदर समा लिया. वहीं आपदा के पांच साल बाद भी कंकालों का लगातार मिलने का सिलसिला जारी है. एक बार फिर केदारनाथ में तीन नर कंकाल मिले…जिनके डीएनए सैंपल लेकर पुलिस ने उनका अंतिम संस्कार किया।

आपको बता दें हाईकोर्ट के निर्देश पर पुलिस की पांच टीमें(35 सदस्यीय टीम) केदारनाथ क्षेत्र में कंकालों की तलाश के लिए गई थी। दो टीमों ने चौराबाड़ी और वासुकीताल और तीन टीमों ने त्रियुगीनारायण, गौरीकुंड आदि क्षेत्रों में कंकालों की खोजबीन की ।जानकारी मिली को त्रियुगीनारायण मार्ग पर तीन कंकाल मिले। तीनों का डीएनए सेंपल लेकर अंतिम संस्कार कर दिया गया है। कुछ टीमें अभी भी कंकालों की खोज में लगी हुई हैं। इधर, डीआईजी अजय रौतेला ने कहा कि टीमों ने कुछ हड्डियां मिलने की जानकारी दी है। इसका ब्योरा तैयार किया जा रहा है।

2013 की केदारनाथ आपदा में मारे गए थे चार हजार से अधिक लोग

गौर हो की 2013 की केदारनाथ आपदा में चार हजार से अधिक लोग मारे गए थे और हजारों लोग लापता हो गए थे। 2016 में भी केदारनाथ के आसपास के क्षेत्रों में कई कंकाल मिले थे। कई लोग घायल होने औऱ उपचार न मिलने के कारण मारे गए औऱ कुछ भूख के कारण मारे गए.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top