ऋषिकेश : चोर की शक्ल में तो नहीं लिखा होता कि वो चोर है और चोरी करने जा रहा है या चोरी करके आया है लेकिन पुलिस की नजरें इतनी तेज होती हैं कि कोई उनकी नजरों से बचके जा नहीं सकता चाहे वो कितना भी शातिर क्यों न हो. जी हां कुछ ऐसा ही हुई तीर्थनगर ऋषिकेश में. जहां कई चोरी की घटनाओं को अंजाम दे चुके शातिर चेन लुटेरों को पुलिस ने श्यामपुर रेलवे फाटक पर धर दबोचा. साथ ही उनके पास से तमंचा, जिंदा कारतूस भी बरामद किए. दरअसल यह दोनो अभियुक्त सुनसान जगहों में टहल रही महिलाओं की चेन झपट कर अंधेरे का फायदा उठाकर भाग जाते थे.
23 सितंबर को ऋषिकेश थाने में दी गई तहरीर
दरअसल 23 सितंबर को ऋषिकेश थाने में राकेश ममगई ने तहरीर दी थी कि मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने उसकी मां के गले से सोने की चेन झपट ली और फरार हो गए. जिसके बाद पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मुकदमा दर्ज किया और  कार्रवाही मे जुट गई.
मुखबिरों को किया तेज, सीसीटीवी खंगाले
वहीं लगातार चेन स्नेचिंग की बढ़ती घटनाओं के बाद मुखबिर तंत्रों को तेज किया गया और चोरों के लिए जगह-जगह जाल बिछाया गया. शातिरों को पकडने के लिए पुलिस की 4 टीमें गठित की गयी। वहीं कई जगह जैसे चंद्रभागा पुल से लेकर मायाकुंड, घाटचौक, रेलवेरोड, आईडीपीएल आदि क्षेत्रों के लगभग 56 सी.सी.टी.वी कैमरों को खंगाला गया.
श्यामपुर फाटक से किया गिरफ्तार, भागने की फिराक में थे चोर
वहीं पुलिस को उस वक्त बड़ी कामयाबी हासिल हुई जब वहश्यामपुर रेलवे फाटक पर संदिग्ध वाहनों की चैकिंग कर रही थी. तभी एक काले रंग की FZ मोटकसाइकिल आती दिखाई दी, पुलिस ने जब बाइक सवारों को रुकने का इशारा किया तो वह गाड़ी को न रोकते हुए वापस मोड़कर भागने के फिराक में थे लिए उससे पहले पुलिस ने उन्हें धर दबोचा. वहीं उनके पास से 2 सोने की चैन एक तमंचा 315 बोर,दो जिंदा कारतूस बरामद हुआ.
पता पूछने के बहाने झपट लेते थे चेन
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि हम लोग सुनसान इलाकों में रैकी करते हैं और उस जगह कीगली मोहल्ले की अच्छी तरह से जानकारी कर लेते हैं। किसी महिला को देख कर उससे किसी का पता पूछने के बहाने उसको रोककर उसकी चैन खींच कर भाग जाते थे. आपको ये भी बता दें आरोपियों पर यूपी में कई मुकदमे दर्ज हैं. पूछताछ में ये भी बताया कि वह दोनों अलग-अलग जाक घटनाओं को अंजाम देते थे और वो दिल्ली-अहमदाबाद भारने की फिराक में थे.
पुलिस टीम 
1-प्र.निरीक्षक गिकेश शाह, कोतवाली ऋषिकेश
2-वरिष्ठ उप.नि. मनोज नैनवाल
3- उप निरी कुलदीप रावत
4- उप निरी राकेश भट्ट
5- उप निरी रघुवीर कपरवान
6- कांस्टेबल संजीव कुमार
7- कांस्टेबल दुष्यंत
8- कांस्टेबल संदीप डाबड़ी
9- कांस्टेबल योगेश भट्ट




See More

 
Top