हल्द्वानी : उत्तराखंड निकाय चुनाव के नामांकन, पर्चा दाखिल औऱ जांच के दौरान कई ऐसे मौके आए जिसमें कई भाजपा नेता भी बागी हुए औऱ कई कांग्रेसी भी. भाजपा नेताओं ने अपनी पार्टी पर आरोप लगाकर कांग्रेस में शामिल हुए तो वहीं कांग्रेसी ने भाजपा का दामन थामा. वहीं दोनों पार्टियों ने बागियों को मनाने का भी भरसक कोशिश की.

आंकड़ों को देखा जाए तो राज्य में निकाय चुनाव में भाजपा के बागियों की संख्या ज्यादा है, लिहाजा पार्टी को इस बात का डर सताने लगा है कि कई सीटों पर भाजपा के बागी उनके अधिकृत प्रत्याशियों का गेम ना बिगाड़ दे।

वहीं वित्त मंत्री प्रकाश पंत का कहना है कि पूरे प्रदेश में भाजपा की लहर है, लिहाजा बागियों से पार्टी को नुकसान का कोई डर नहीं है और कई नाराज कार्यकर्ताओं को उन्होंने मना कर पूरी तरह से पार्टी के अधिकृत प्रत्याशियों के समर्थन में प्रचार करने के लिए लगा दिया है।





See More

 
Top