• ”जय जवान जय किसान का नारा ” तभी सार्थक जब देश साक्षर और स्वच्छ होगा   
  • ”हाईफीड” द्वारा कृषि क्षेत्र में चलाये जा रहे कार्यों की हुई सराहना 
  • राजनेता व अधिकारियों को करनी चाहिए ईमानदारी से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वाहन

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : गाँधी जयंती के अवसर पर यमकेश्वर विकास खंड के छोटी विलायत के नाम से मशहूर किमसार,मल्ला बनास और तल्ला बनास के ग्रामीण इलाकों में ”स्वच्छता ही सेवा” अभियान चलाया गया। कार्यक्रम की मुख्यअतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष दीप्ती रावत ने इस अवसर पर सैकड़ों ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज देश को राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के सपनों का भारत बनाना है और देश तभी उनके सपनों के अनुरूप बनेगा जब यह स्वच्छता अभियान अपने घरों से शुरू करेंगे। उन्होंने कहा हमें जगह-जगह थूकने और अपना कचरा दूसरे के घरों के सामने फेंकने की आदत पड़ गयी है । साथ ही उन्होंने स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री जी को याद करते हुए कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है और बिना कृषकों की उन्नति के देश उन्नति नहीं कर सकता। 

उन्होंने कहा ”जय जवान जय किसान का नारा” तभी पूर्ण माना जायेगा जब भारत साक्षर,स्वच्छ और संपन्न होगा। उन्होने कहा इसके लिए प्रत्येक गांववासी को ह्रदय से कड़ी मेहनत करनी होगी। साथ ही  उन्होंने कहा राजनेता व अधिकारियों को ईमानदारी से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन प्रजा के प्रति करना होगा। उन्होंने इस अवसर पर युवाओं का आव्हान किया अपने आसपास कूड़ा डालने अथवा गंदगी फैलाने वालों को आपको खुद सीखाना होगा कि वे भविष्य में इस तरह की गलतियों की पुनरावृति न करें। 

इस अवसर पर उन्होंने पर्यावरण मित्र योजना के तहत डांडामंडल क्षेत्र में जैविक और अजैविक कूड़ादान  ग्रामीणों को वितरित किये और ग्रामीणों से आग्रह किया कि प्लास्टिक और उससे सम्बंधित कूड़े को अजैविक कूड़ेदानों में डाले और रसोइयों से उत्पन्न विभिन्न प्रकार के कचरे (सब्जी, बासी खाना आदि) खाना जैविक कूड़ेदानों में डाला जाना चाहिए। 

इस अवसर पर ग्रमीणों के साथ मिलकर उन्होंने हाईफीड द्वारा चलाये जा रहे ग्राम मल्ला बनास में संरक्षित सब्जी उत्पादन परियोजना का निरीक्षण किया कृषि क्षेत्र में अपनी निपुणता दिखाते हुए पौध रोपण भी किया। उन्होंने हाईफीड द्वारा उत्तराखंड में पहली बार छोटी विलायत इलाके में किये जा रहे किनोवा के उत्पादन को पूरे प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में भी पैदा करने  पर जोर दिया।  उन्होंने किनोवा के पौष्टिक गुणों और  किसानों के लिए एक बेहतरीन आमदनी का जरिया बताते हुए कहा कि उत्तराखण्ड से पलायन कर  रहे  किसानों  को यह फसल रोजगार के साथ -साथ रिवर्स पलायन का आकर्षण पैदा कर सकता है। 

इस अवसर पर उन्होने युवाओं से राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी और किसानों के प्रेरणाश्रोत स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री के विचारों को असल जिंदगी में अमल करने का आव्हान किया।

इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य डॉ. मीरा रतूड़ी ,अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत पौड़ी संतोष खेतवाल और  कार्यधिकारी जिला पंचायत पौड़ी अंशिका स्वरूप , ग्राम प्रधान किमसार, मल्ला बनास , तल्ला बनास और प्रधान संगठन के अध्यक्ष मौजूद रहे।  कार्यक्रम का सञ्चालन पूर्व ग्राम प्रधान बचन सिंह बिष्ट ने किया।  





See More

 
Top