• हंस कल्चर सेंटर दिल्ली ने समारोह में लगाया नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर
  • गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को बांटे गए शारीरिक उपकरण और दवाइयां 
  • हंस जरनल अस्पताल सतपुली में हजारों मरीजों को मिल रही स्वास्थ्य सेवाएं : डॉ. मिन्हास 
देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
कर्णप्रयाग : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि वीसी (विक्टोरिया क्रॉस से सम्मानित) दरवान सिंह जी के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता क्योंकि उन्होंने ब्रिटिश सरकार से जागीर न मांगते हुए अपने क्षेत्र के लिए स्कूल की मांग की थी, जिसका हजारों छात्रों को फायदा मिल रहा है। उन्होंने कहा कि हमारी यह भूमि देवभूमि के साथ ही वीरों की भी भूमि है। इतिहास गवाह है जब जब दुश्मनो ने हमारी सीमा क्षेत्रों में घुसपैठ करनी चाही हमारे वीरों ने उनका मुँहतोड़ जबाब दिया है।
यह बात रविवार को यहां वार मैमोरियल शताब्दी समारोह  कर्णप्रयाग  पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने सम्बोधन में कही।  इससे पूर्व  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने विक्टोरिया क्रॉस सम्मान से नवाज़े गए प्रथम विश्व युद्ध के सैनिक दरवान सिंह नेगी के चित्र पर पुष्प अर्पित किये, वहीं इस दौरान  समिति ने मुख्यमंत्री को स्मृति चिह्न भेंट किया और सेना के बैंड की धुन पर समिति ने मुख्यमंत्री  का जोरदार स्वागत किया गया। 
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अपने सम्बोधन में प्रथम विश्व युद्ध के वीसी दरवान सिंह की अपनी भूमि के प्रति लगाव व योगदान की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि हरिद्वार से कर्णप्रयाग तक रेल लाईन निर्माण की भी उनकी मांग रही थी, जिसका अब निर्माण आरम्भ हो गया है। उन्होंने कहा कि गुरुजनों के आशीर्वाद व त्याग से इस विद्यालय के सैकड़ो बच्चे आज देश के विभिन्न क्षेत्रों में सेवाएं दे रहे है जो कि हम सबके लिये गर्व की बात है।
कार्यक्रम में वीसी दरवान सिंह नेगी के सुपुत्र सेवानिवृत्त कर्नल बलबीर सिंह नेगी ने कहा कि पिताजी की सोच सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय की थी। इस अवसर पर कर्णप्रयाग के विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी, थराली की विधायक मुन्नी देवी शाह, कर्णप्रयाग के पूर्व विधायक अनिल नौटियाल सहित अन्य गणमान्य लोग, क्षेत्रीय जनता व जनप्रतिनिधि आदि उपस्थित थे। 
इस मौके मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि हमारी सरकार हर संभव प्रयास कर रही है कि शहीदों के हर सपने पूरे हो, हम शहीदों के बलिदान को जाया नहीं जाने देगे। श्री रावत ने कहा कि प्रथम एवं द्वितीया विश्व युद्ध में उत्तराखंड के सैनिकों ने जो बलिदान दिया उससे पूरे विश्व में उत्तराखंड का मान सम्मान बढ़ा और आज तक यह सम्मान निरंतर हमें गर्व करने के लिए नयी परिभाषा दे रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा वीसी  दरवान सिंह नेगी जी ने अपने प्रयासों से इस क्षेत्र में जो अलख जगाई वह यकीनन विश्व मानचित्र पर उत्तराखंड को नयी पहचान दिलाता है। आज वार मेमोरियल राजकीय इंटर कॉलेज में यह आयोजन किया गया है। इसके लिए मैं आप सभी प्रबुद्धजनों का आभार व्यक्त करता हूं।
श्री रावत ने इस अवसर पर कहा कि स्वास्थ्य-शिक्षा से लेकर गरीब एवं जरूरतमंदों लोगों के उत्थान के निरंतर कार्य कर रहे समाज सेवी माता मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज जी ने इस समारोह में नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया है। हमारे शहीदों के लिए इससे बेहतर श्रद्धांजलि और क्या हो सकती है। मैं इसके लिए माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज जी को और उनकी पूरी टीम का भी आभार प्रकट करता हूँ। 
इस मौके पर हंस जरनल अस्पताल सतपुली के चिकित्सा डाक्टर मिन्हास ने वीसी दरवान सिंह नेगी जी को श्रद्धांजलि देते हुए बताया कि हंस कल्चर सेंटर दिल्ली एवं हंस फाउंडेशन के प्रेरणास्रोत माताश्री मंगलाजी एवं भोलेजी महाराज जी के आशीष से आज इस समारोह में नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को  व्हीलचेयर, बैसाखी, पचास हेयरिंएड, तीस स्टील स्टीक चालीस ब्लैंकिट, दस स्लोर लाइट और एक्वागार्ड प्रदान किया गया है।
डॉ.मिन्हास ने बताया कि हंस जरनल अस्पताल सतपुली में भी हर दिन हजारों मरीजों को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जा रही है। हर माह लगभग पांच हजार मरीजों को ओपीडी के माध्यम से सेवाएं दी जा रही है। हमारे अनुभवी चिकित्सकों द्वारा हर माह 15-20 गंभीर रोगियों के सफल आपरेशन किए जा रहे हैं। इसी के साथ प्रतिदिन होने वाली नियमित जांचों में भी मरीजों को सेवाएं प्रदान कर रहे हैं।
माताश्री मंगलाजी एवं भोलेजी महाराज जी के आशीर्वाद हम हंस जरनल अस्पताल के तत्वावधान में उत्तराखंड के दूर-दराज के इलाकों में निरंतर नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविरों का आयोजन भी कर रहे हैं। जिसमें आकर सैकड़ों जरूरतमंद लोगों निरोगी हो घर लौट रहे हैं। 
वार मेमोरियल राजकीय इंटर कॉलेज कर्णप्रयाग में आयोजित इस कार्यक्रम में कर्णप्रयाग के पूर्व विधायक अनिल नौटियाल , थराली की विधायक मुन्नी देवी शाह , कर्णप्रयाग विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी सहित कई प्रबुद्धजन भी मौजूद थे।




See More

 
Top