दशहरा के दिन रावण दहन के दौरान हुए बहुचर्चित अमृतसर ट्रेन हादसे को लेकर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने दायर जनहित याचिका को आज खारिज कर दिया। इस दौरान जज ने कुछ सवाल करते हुए तीखी टिप्पणियां भी की।

दशहरा पर्व के दौरान पंजाब के अमृतसर में हुए दर्दनाक ट्रेन हादसे में 59 लोगों की जानें गई थी जो उस दौरान पुतला दहन देख रहे थे. इसके लिए अभी तक किसी की जिम्मेदारी तय नहीं हुई है। न ही कोई इसकी जिम्मेदारी लेने को तैयार है।

मुख्यातिथि नवजोत कौर या सरकार हादसे के लिए कैसे जिम्मेदार हुई- जज

इसी ​सिलसिले में पंजाब हरियाणा हाईकार्ट में जनहित याचिका दायर की गई जिसमें हादसे की सीबीआई जांच और परिजनों को मुआवजा दिलाने की मांग की गई है। जिसे कोर्ट ने खारिज करते हुए सवाल किया कि जब लोग खुद ही ट्रैक पर खड़े थे तो मुख्यातिथि नवजोत कौर या सरकार हादसे के लिए कैसे जिम्मेदार हुई।

गौरतलब है कि पंजाब सरकार ने हादसे की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। इसको लेकर पंजाब के गृह विभाग ने अधिसूचना भी जारी कर दी है।





See More

 
Top