खाना देरी से बनाने पर नशेड़ी भाई ने छोटी बहन को लाठी से बेरहमी से पीटा. लाठी से पीट-पीट कर बड़े भाई ने छोटी बहन के हाथ पैर तोड़ डाले. नाराज पिता और छोटे भाई ने बहन के हाछ-पैर तोड़ने वाले भाई को पीट-पीट कर मार डाला. मामला यूपी के बरेली का है. मौके पर पहुंची पुलिस ने पिता-पुत्र को गिरफ्तार कर लिया है और घायल बहन को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

घरेलू हिंसा की सनसनीखेज वारदात से दहला भोजीपुरा का फरीदापुर जागीर गांव

भोजीपुरा के फरीदापुर जागीर गांव निवासी 25 साल का धर्मेंद्र कुमार शराब का आदि था. रोजाना शराब पीकर आता था और घर में मारपीट करता था. कल करवाचौथ की घर पर सभी लोग तैयारी कर रहे थे. घर पर पकवान बन रहे थे और चन्द्रमा का इंतजार हो रहा था. इसी बीच धर्मेंद्र शराब के नशे में घर में पहुंचा और उसने अपनी छोटी बहन रोली से खाना मांगा. जिस पर उसने बताया की खाना बन रहा है पूजा होने के बाद मिलेगा. इतनी सी बात पर धमेंद्र ने रोली को लाठी से बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया.

पिता-छोटे भाई ने धर्मेंद्र को पीटा, हुई मौत

धर्मेंद्र ने रोली को इतना पीटा की उसके हाथ पैर टूट गए. पीटा और छोटे भाई के समझने पर भी धर्मेंद्र नहीं माना और रोली को पीटता रहा. रोली दर्द से चीख रही थी और परिवार वालों से मदद की गुहार लगा रही थी. नाराज पिता और छोटे भाई ने लाठी और बांके से धर्मेद्र को पीट-पीट कर लहूलुहान कर दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

मौके पर पहुंची पुलिस ने पिता-पुत्र को किया गिरफ्तार

घर में मचे बबाल और चीख पुकार सुन पड़ोसी इक्क्ठा हो गए और किसी ने पुलिस को सूचना दे दी. मौके पर भोजीपुरा पुलिस पहुंची और पिता-पुत्र को गिरफ्तार कर लिया. घायल बहन को अस्पताल में भर्ती करवाया गया. रोली की तहरीर पर पिता और भाई के खिलाफ भोजीपुरा थाने में ग़ैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस अब पिता-पुत्र को जेल भेजने की तैयारी कर रही है.

धर्मेंद्र की गलत आदतों से परेशान थे परिवार वाले

त्योहार के दिन घर में हुए खून-खराबे से पूरे गांव में कोहराम मच गया. बड़े बेटे की मौत, पति और छोटे बेटे की गिरफ्तारी से मृतक धर्मेंद्र की मां का बुरा हाल है और वो सदमे में है .धर्मेंद्र घर में सबसे बड़ा था लेकिन गांव के गलत लड़कों की संगत में पड़ गया था जिस वजह से वो शराब पीकर आये दिन घर वालों से मारपीट करता था. घर वाले उससे काफी परेशान थे.





See More

 
Top