देहरादून : भला ऐसा हो सकता है कोई उत्तराखंड की हसीन वादियों में आए और पहाड़ी व्यंजन का स्वाद न चखे…नहीं ना…आज तक जितने भी बाहरी लोगों ने पहाड़ी खाने का स्वाद चखा है उसे उंगलियां चाटने पर मजबूर कर दिया है और खूब वाह-वाही लूटी है. जी हां कुछ ऐसा ही होगा जब 7 और 8 अक्टूबर को जब पीएम मोदी के साथ कई देश-विदेश के लोग पहाड़ी व्यंजन का स्वाद चखेंगे.
इन्वेस्टर्स समिट में उद्योग जगत की जानी-मानी हस्तियां उत्तराखंड पधारेंगे
जी हां 7 अक्टूबर को उत्तराखंड में इन्वेस्टर्स समिट में उद्योग जगत की जानी-मानी हस्तियां उत्तराखंड पधारेंगे जिनके खाने-पीने के पूरे इंतज़ाम किए गए हैं..मेहमानों की मेहमानबाज़ी में शाकाहारी व्यंजन के साथ पहाड़ी व्यजनों का भी विदेशी मेहमान स्वाद लेते दिखेंगे.
तैयारियां जोरों-शोरों पर
देहरादून में 7 अक्टूबर को होने वाले इन्वेस्टर्स समिट के आयोजन की तैयारियां जोरों-शोरों पर है…सरकार भी कोशिश कर ही है कि इतने बड़े आयोजन में शामिल होने वाले मेहमानों की मेहमानवाज़ी में कोई कमी न रह जाए….यही वजह है कि मेहमानों के लिए 7 अक्टूबर को ऋषिकेश में गंगा आरती के बाद भव्य भोज कार्यक्रम होगा…इस भोज में सरकार ने खास तौर पर पहाड़ी व्यंजनों को प्राथमिकता दी है….
खाने में क्या-क्या परोसा जाएगा पढ़िए-
जिसमे रोटी मंडवे के आटे की बनी मिलेगी, काले सोयाबीन की भटवाणी, उड़द दाल की काफ़ली, आलू,मूली की थिचवाणी, कंडाली पनीर की सब्जी, सोयाबीन गहथ दाल का फाणु,
गहथ दाल की गथवाणी, पहाड़ी लाल चावलों का भात, सभी स्थानीय दलों से बनने वाला चुरकाणि, मट्ठा झंगोरा से निर्मित थापली, झंगोरा, सब्जी से निर्मित काफली.
स्वीट डिश
इन आयोजन में स्वीट डिश के तौर पर विशेष रहेगा झंगोरे की खीर और कद्दू का हलवा भोज की शान बनाएंगे. पूरे भोज में सहित 18 पहाड़ी व्यंजनों का होगा इंतजाम रहेगा.
एतिहासिक होगा इंवेस्ट समिट का आय़ोजन




See More

 
Top