मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी की मुलाकात के चंद घंटे बाद ही सरकार ने गति पकड़ ली। लखनऊ के नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी उनके आवास पर पहुंचे और शैक्षिक प्रमाण पत्र लेकर कार्यालय चले गए। इसके कुछ देर बाद ही कल्पना तिवारी को नगर निगम लखनऊ में जनसंपर्क अधिकारी का पद दिया गया.

विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को नगर निगम लखनऊ में केंद्रीयकृत सेवा के तहत नौकरी का प्रावधान किया गया। कल ही लखनऊ के मेयर संयुक्ता भाटिया ने उनको नौकरी का आश्वासन दिया था। उनकी सैलरी 45 से 50 हजार रुपए के बीच निर्धारित की गई है। इससे लखनऊ नगर निगम में पीआरओ की पोस्ट नहीं थी। कल्पना तिवारी की नियुक्ति की सूचना नगर आयुक्त इंद्रामणि त्रिपाठी ने प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी के साथ मिलकर उनको दी।

मुख्यमंत्री ने विवेक तिवारी की घटना को अत्यन्त दु:खद बताते हुए उनकी पत्नी, बच्चों तथा अन्य शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की। इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने के बाद कल्पना तिवारी ने कहा कि उन्हें तो सरकार पर भरोसा था और मुख्यमंत्री से मिलने के बाद यह और मजबूत हुआ है। गंभीर घटना के समय से ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश से बाहर चल रहे थे। लखनऊ में आने के बाद उन्होंने आज सुबह ही मिलने का फैसला किया।इसके बाद आज उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कल्पना तिवारी की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर भेंट कराई।





See More

 
Top