15 ऑक्टूबर तक टेलीकॉम कंपनियों को आधार बेस्ड ऑथेन्टिकेशन सिस्टम को मोबाइल नंबर से पूरी तरह हटाने का ऐक्शन प्लान UIDAI को देना है. अगर तय समय में ऐसा नहीं किया गया तो UIDAI ने कहा है. कि बिना नोटिस के ऑथेन्टिकेशन सर्विस खत्म कर दी जाएगी.

आधार पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कई चीजें बदलेंगी. मोबाइल कंपनियों को आपके नंबर से आधार लिंक नहीं, बल्कि डी लिंक करना होगा. सुप्रीम कोर्ट के फैसले में मोबाइल नंबर से आधार लिंक करने की अनिवार्यता खत्म कर दी है. टेलीकॉम ऑपरेटर्स को एक नई KYC करनी होगी जिसके लिए एक आईडी देनी होगी जिसे डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम अप्रूव करेगा. मोबाइल नंबर से आधार डी लिंक करने के छह महीने के अंदर नई KYC प्रक्रिया पूरी करनी होगी.

यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफर इंडिया (UIDAI) ने टेलीकॉम कंपनियों से 15 दिन के अंदर यूजर्स के मोबाइल नंबर से आधार डी लिंक करने का प्लान मांगा है.

सोमवार को UIDAI की तरफ से सात टेलीकॉम कंपनियों को लेटर भेजा गया है. इसमें कहा गया है. कि आधार को जल्द से जल्द मोबाइल नंबर से डी लिंक करना होगा. आपको बता दें कि यह कस्टमर पर भी डिपेंट करेगा, क्योंकि जब यूजर चाहेंगे तो कि उनका आधार उनके नंबर से डी लिंक किया जाए तो कंपनी को आधार डी लिंक करना होगा. सर्विस प्रोवाइडर्स नए सिम या सिम के री वेरिफिकेशन के आधार को अनिवार्य नहीं कर सकते.





See More

 
Top