बुधवार को केरल कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष व वायनाड से सांसद एम.आई. शानवास का चेन्नई के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. पार्टी के एक नेता ने यह जानकारी दी. वह 67 साल के थे.

केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने कहा, “पार्टी ने एक निष्ठावान नेता खो दिया है. मैंने अपना एक प्रिय भाई खो दिया है.”

दो बार संसद सदस्य रहे शानवास पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे और उन्हें तमिलनाडु की राजधानी में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनके परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं.

चेन्निथला ने कहा, “उनके पार्थिव शरीर को आज कोच्चि लाया जाएगा. इसे राज्य में रखा जाएगा जिससे जनता उन्हें श्रद्धांजलि दे सके और उनका अंतिम संस्कार कल होगा.”

केरल के पूर्व मुख्यमंत्री के. करुणाकरन के लंबे समय तक करीबी सहयोगी रह चुके शानवास ने चेन्निथला और केरल के पूर्व स्पीकर दिवंगत जी. कार्तिकेयन के साथ 1980 के दशक में करुणाकरन से अलग होकर अपना अलग गुट ‘द रिफॉर्मिस्ट’ बनाया.

शानवास ने वायनाड से 2009 में लोकसभा चुनाव जीता और 2014 में भी वहां से जीत दर्ज की.

मुख्यमंत्री पिनरई विजयन और उनके कैबिनेट सहयोगियों ने शानवास के निधन पर शोक जताया है.





See More

 
Top