(नैनीताल) : उत्तराखण्ड के नैनीताल में एक शादीशुदा दुल्हा मण्डप में लड़की पक्ष के लोगों के हाथों जमकर पीटा। मौके पर पहुंची पुलिस ने दूल्हे को बचाकर थाने पहुँचाया।

अचानक शादी में पहुंची युवती

नैनीताल में रहने वाले एक परिवार के घर बेटी की शादी का जश्न चल रहा था। बारात के स्वागत के लिए मॉल रोड के एक होटल में सारी व्यवस्थाएं की गई थी। कल दोपहर में नैनीताल निवासी मयंक की बारात मण्डप पहुंची और शादी की रिवाजें शुरू हुई। तभी एक युवती वहां पहुंची और उसने मण्डप पर जमकर लात जड़ दी। युवती की इस हरकत से सभी लोग अचंभित रह गए।

युवती पहुंची दस्तावेज लेकर, 2014 में युवक ने की थी युवती से कोर्ट मैरिज शादी 

युवती ने वहां मौजूद लोगों को बताया की दूल्हा मयंक पहले से ही शादीशुदा है। युवती अपने साथ मयंक की शादी(कोर्ट मैरेज) के सभी दस्तावेज लेकर पहुंची थी। युवती ने मौजूद लोगों को अपना आधार कार्ड भी दिखाया जिसमें पति की जगह मयंक का नाम दर्ज था। युवती ने बताया की दोनों सन 2014 से एक साथ रह रहे हैं और उनका न्यायालय में विवाह अभी कुछ समय पहले ही हुआ है। दोनों ने इसके बाद मिलकर जमीन भी खरीदी है। युवती ने बताया की मयंक ने उसे गुमराह करते हुए कहा था की आज उसके भाई की शादी है। घरवाले उसकी शादी का दबाव बना रहे हैं जिसे उसने फिलहाल छह महीने के लिए टाल दिया है और इस बीच वो घरवालों को उसके बारे में बताकर मना लेगा। युवती ने ये भी बताया की वो भी तलाकशुदा है और उसका छह वर्षीय लड़का भी है।

 दुल्हन के भाई न, परिजनों ने की जमकर पिटाई

गुस्से से लाल पीली युवती ने जैसे ही अपनी बात रखी दुल्हन के भाई, परिजन, रिश्तेदारों ने दूल्हे की जमकर पिटाई शुरू कर दी। अब क्या था, बारातियों ने मुंह मोड़ लिया और बारात स्थल से चलने में ही भलाई समझी। मयंक पर राह चलते लोगों ने भी हाथ साफ़ किये। उसे पुलिस की मौजूदगी में सड़क में आधे रास्ते तक घसीटकर ले जाया गया और फिर गाड़ी से कोतवाली ले जाया गया। इसबीच पुलिस ने मयंक को बचाने की भरसक कोशिश भी की लेकिन लड़की पक्ष की नाराजगी के सामने पुलिस बौनी रह गई। पुलिस ने बताया की मामले में जांच की जाएगी, और उसके बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचा जाएगा।





See More

 
Top