मसूरी : निकाय चुनाव के नतीजे आने के बाद देहरादून में तो खुशी का माहौल है क्योंकि मेयर पद पर तीसरी बार भाजपा ने कब्जा किया…सुनील उनियाल गामा ने विपक्षी प्रत्याशियों को कड़ी टक्कर देकर जीता हासिल की…लेकिन बड़ा झटका भाजपा औऱ मसूरी विधायक को मसूरी से लगा…जहां भाजपा का सूपड़ा साफ हो गया…मसूरी से भाजपा एक पद भी न जीत सकी…जिसे बड़ी हार भाजपा की औऱ मसूरी विधायक की भी माना जा सकता है. क्योंकि भाजपा से मसूरी विधायक के गढ़ में ही भाजपा की बड़ी शिकस्त हुए.

13 पदों में से नौ पर निर्दलीय और 4 पर कांग्रेस का कब्जा

आपको बता दें मसूरी में नगर पालिका चुनाव में सभासद के 13 पदों में से नौ पर निर्दलीय प्रत्याशियों को जीत हासिल कि तो वहीं चार सीटों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज कर लाज बचाई…वहीं बात करें भाजपा की तो भाजपा का मसूरी में सूपड़ा ही साफ हो गया है। उन्हें वहां से न तो मूंह मीठा करने का मौका मिला और न ही मूंह मीठा करा पाए.

मतगणना के दिन मसूरी विधायक गणेश जोशी को भी मूंह की खानी पड़ी

मतगणना के दिन मसूरी विधायक गणेश जोशी को भी मूंह की खानी पड़ी. दरअसल देहरादून के मतगणना स्थल पर भाजपा मसूरी विधायक गणेश जोशी बिना पास के ही घुस गए…जिससे वहां मौजूद विपक्षा पार्टियों के समर्थकों ने हंगामा कर दिया जिसके बाद मायूसी भरा चेहरा लेकर उन्हे उल्टे पैर बाहर आना पड़ा..और तो और छठ पूजा के दिन महिलाओं को पैसे बांटने के मामले पर भी खूब किरकिरी उनकी हुई.

वहीं मसूरी से विधायक गणेश जोशी को मतगणना स्थल पर तो शर्मिंदगी उठानी पड़ी लेकिन जहां से वो विधायक है वहां से एक भी सीट न लाकर ढक्कन साबित हुए.





See More

 
Top