मंगलवार को बद्रीनाथ मंदिर के कपाट रीति-रिवाज और मंत्रोच्चारण के बीच शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए. कपाट को अपराह्न् 3.21 बजे बंद किया गया.

केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के बाद बद्रीनाथ छह महीने के लिए शीतकाल में बंद होने वाला चौथा धाम है.

अधिकारियों ने कहा कि इस वर्ष के ‘दर्शन’ के अंतिम दिन बद्रीनाथ धाम में कुल 5,237 श्रद्धालु दर्शन के लिए आए. कपाट बंद होने के समय बैंडों ने धार्मिक धुन बजाए.

केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए नौ नवंबर को और गंगोत्री धाम के कपाट आठ नवंबर को बंद कर दिए गए.





See More

 
Top