देहरादून। देहरादून नगर निगम में भाजपा ने अपना दबदबा कायम रखते हुए हैट्रिक के साथ जहां तीसरी बार मेयर की कुर्सी पर कब्जा किया है, वहीं हैट्रिक के साथ ही तीसरी बार बोर्ड के गठन की भी हैट्रिक भाजपा ने देहरादून नगर निगम में लगाइ।

खास बात यह है कि उत्तराखंड का सबसे बड़ा नगर निगम देहरादून है, जिस पर भाजपा ने मेयर पद जीतने के साथ ही मेयर की कुर्सी जीतने को लेकर पूरा दम लगा दिया था। जिसमें भाजपा कामयाब भी रही है। मेयर की कुर्सी जहां बीजेपी के प्रत्याशी सुनील गामा उनियाल के खाते में आई है वही भाजपा ने 59 वाडों पर अपना परचम लहराया है.

खास बात यह है कि राज्य गठन के बाद 2003 नगर निगम चुनाव में बीजेपी की हार के बाद लगातार भाजपा ने तीसरी बार देहरादून नगर निगम में बोर्ड के गठन के साथ मेयर की कुर्सी हासिल की है जिससे साफ तौर से कहा जा सकता है कि देहरादून नगर निगम में भाजपा ने अपना दबदबा कायम रखा है जिसे कांग्रेस तीसरी बार भेजने में भी नाकाम रही है





See More

 
Top