देहरादून : निकाय चुनाव में भाजपा के शानदार प्रदर्शन के बाद अब राजनैतिक गलियारे में एक बार फिर मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चाएं जोर पकड़ने लगी है. जी हां सूत्रों की मानें तो कैबिनेट के दो रिक्त पद जल्द भरे जा सकते हैं. कहा जा रहा है कि कुमाऊं और गढ़वाल के एक-एक विधायक की रिक्त कैबिनेट मंत्री पद पर लॉटरी लग सकती है. क्षेत्र संतुलन बनाने के लिए दोनों ही क्षेत्रों से एक-एक विधायक को मंत्री बनाया जाएगा. जिसकी जानकारी संगठन ने हाईकमान को दी है.

कैबिनेट मंत्रियों के विभागों में फेरबदल के साथ दो रिक्त पद भरे जाने की खबर

सूत्रों की मानें तो विधानसभा सत्र के बाद कैबिनेट के दो रिक्त पद भरे जा सकते हैं जिसमे कैबिनेट मंत्रियों के विभागों में फेरबदल के साथ दो रिक्त पद भरे जा सकने की खबर है. खबर तो ये भी है कि एक राज्य मंत्री को कैबिनेट मंत्री के रूप में प्रमोशन मिल सकता है. वहीं विधानसभा सत्र के बाद दायित्व बंटवारे को लेकर पहली सूची भी आ सकती है. खबर है कि आयोगों में भाजपा कार्यकर्ताओं और भाजपा नेताओं को मौका दिया जाएगा. 7 जिला मुख्यालयों में निकाय चुनाव में मिली जीत और हार से जोड़कर दायित्व बंटवारे को देखा जा रहा है.

गौर हो कि बीते दिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और वित्त मंत्री प्रकाश पंत दिल्ली दौरे पर थे जिसके बाद क्यास लगाए जा रहे हैं कि जल्द कैबिनेट मंत्रीमंडल में रिक्त पदों के भरने के साथ विस्तार होगा.

नौ ही विधायकों को किया था मंत्रिमंडल में शामिल,दो राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाए गए

गौरतलब हो कि मार्च 2017 में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में प्रदेश में भाजपा सरकार बनी थी, उस दौरान उन्होंने केवल नौ ही विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल किया। इनमें मुख्यमंत्री के अलावा सात कैबिनेट मंत्री व दो राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाए गए. तब से लेकर अब तक दो साल होने को हैं लेकिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपनी टीम का विस्तार नहीं किया। हालांकि ये देखने वाली बात होगी कि कैबिनेट के दो रिक्त पद किसे और कब मिलते हैं क्योंकि पहले भी ऐसी चर्चाएं चली लेकिन अंजाम तक नहीं पहुंची.





See More

 
Top