प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विपक्ष के नेताओं ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता लालकृष्ण आडवाणी को उनके 91वें जन्मदिन की बधाई दी. कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के नेता सिद्दारमैया ने भी आडवाणी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी.

मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, “आडवाणी का भारतीय राजनीति पर बड़ा प्रभाव है और उन्होंने भाजपा के विकास के साथ-साथ इसके कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन भी किया.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “भविष्य के लिए निर्णय लेने और लोगों के अनुकूल नीतियों के निर्माण के लिए उनके काम की सराहना की जाती है. राजनीति के जगत में उनके काम की प्रशंसा की जाती है.”प्रधानमंत्री मोदी ने इसके बाद आडवाणी को अपने निवास में आमंत्रित भी किया.

पूर्व उप-प्रधानमंत्री आडवाणी को मोदी के अलावा केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, नितिन गडकरी के साथ-साथ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने भी बधाई दी.

सिद्दारमैया ने ट्वीट किया, “हमारा लोकतंत्र खतरे में है और इसकी रक्षा के लिए आपके अनुभवों और वरिष्ठता का सम्मान न करने वाले मार्गदर्शक मंडल की नहीं, बल्कि आपके मार्गदर्शन की जरूरत है.”

मोदी, विपक्षी नेताओं ने आडवाणी को दी जन्मदिन की बधाई.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विपक्ष के नेताओं ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता लालकृष्ण आडवाणी को उनके 91वें जन्मदिन की बधाई दी. कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के नेता सिद्दारमैया ने भी आडवाणी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी.

मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, “आडवाणी का भारतीय राजनीति पर बड़ा प्रभाव है और उन्होंने भाजपा के विकास के साथ-साथ इसके कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन भी किया.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “भविष्य के लिए निर्णय लेने और लोगों के अनुकूल नीतियों के निर्माण के लिए उनके काम की सराहना की जाती है. राजनीति के जगत में उनके काम की प्रशंसा की जाती है.”प्रधानमंत्री मोदी ने इसके बाद आडवाणी को अपने निवास में आमंत्रित भी किया.

पूर्व उप-प्रधानमंत्री आडवाणी को मोदी के अलावा केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, नितिन गडकरी के साथ-साथ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने भी बधाई दी.

सिद्दारमैया ने ट्वीट किया, “हमारा लोकतंत्र खतरे में है और इसकी रक्षा के लिए आपके अनुभवों और वरिष्ठता का सम्मान न करने वाले मार्गदर्शक मंडल की नहीं, बल्कि आपके मार्गदर्शन की जरूरत है.”





See More

 
Top