देहरादून। उत्तराखंड को अब अपना डाटा सेंटर मिल गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने इस डाटा सेंटर उद्घाटन किया है। ये डाटा सेंटर देहरादून स्थित सहत्रधारा आईटी पार्क में बनाया गया है। इस डाटा सेंटर के माध्यम से राज्य के सभी सरकारी विभागों को अब डिजीटल एक्सेस मिल पाएगा। इस डाटा सेंटर की अहम बात ये है कि पूरे राज्य के अलग अलग सरकारी विभागों के डाटा एक ही जगह उपलब्ध हो सकेंगे।
उत्तराखंड को पूर्ण रूप से डिजीटल बनाने की राह में ये एक बड़ा कदम साबित हो सकता है। यही नहीं ई गवर्नेंस की ओर भी सरकार का ये एक बड़ा कदम माना जा रहा है। डाटा सेंटर के उद्घाटन के मौके पर सीएम त्रिवेंद्र रावत ने डाटा सेंटर के निर्माण को राज्य के लिए एक अहम कदम बताया है। सीएम ने उम्मीद जताई है कि इससे भ्रष्टाचार से लड़ाई में भी मदद मिलेगी।
ये डाटा सेंटर उत्तराखण्ड सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी विकास अभिकरण द्वारा तैयार किया गया है। ये थ्री टियर डाटा सेंटर है जो सौ फीसदी साफ्टवेयर आधारित हाइपर कन्वर्ज्ड इंफ्रास्ट्रक्चर तकनीक पर संचालित है। ये अपनी तरह का देश का पहला हाईटेक डाटा सेंटर है जिसमें नागरिक केंद्रित सेवाओं से जुड़े डाटा की उपलब्धता होगीवहीं इस डाटा सेंटर के बनने से विभागों के जरिए खर्च किए जा रहे पैसों का भी हिसाब किताब पारदर्शी रूप से रखा जा सकेगा। डाटा एक्सेस को सीमित रखा गया है। अनावश्यक रूप के इस डाटा सेंटर में काम करने वाले भी किसी नागरिक का डाटा एक्सेस नहीं कर पाएंगे।




See More

 
Top