रुड़की : पिछले 27 दिनों से इकबाल पुर शुगर मिल पर अपने गन्ने के बकाया मूल्य को लेकर धरने पर बैठे किसानों ने आज झबरेड़ा के भाजपा विधायक देसराज कर्णवाल के सामने ही प्रदेश सरकार और भाजपा के खिलाफ नारेबाज़ी कर डाली. वहीं 27 दिनों बाद धरना स्थल पर पहुँचने पर भी किसान नेताओं ने विधायक को खरी खोटी सुनाते हुए कहा कि भाजपा सरकार किसानों की हितेषी नहीं है. किसानों को लगभग 144 करोड़ रुपये इकबाल पुर शुगर मिल पर बकाया है. बावजूद उसके पिछले 27 दिनों से धरने पर बैठे जाने के बाद भी मिल मालिकों या प्रदेश सरकार पर इसका कोई असर नही पड़ा हैं जिसका खामियाजा आने वाले समय मे भाजपा सरकार को भुगतना होगा.

वहीं झबरेड़ा विधायक किसानों के धरना स्थल पर उनकी सहानभूति पाने के लिए पहुँचे थे. लेकिन किसानों के गुस्से ने उन्हें बगले झांकने पर मजबूर कर दिया. किसान भाजपा विरोधी नारे लगाते रहे और विधायक बेबसी की हालत में फीकी मुस्कान बिखेरते रहे.

सरकार को कभी माफ नही करेंगे-किसान

किसानों ने कहा कि पिछले 27 दिनों से विधायक भी सरकार की तरह सो रहे थे लेकिन भले ही वह उन्हें झूठा आश्वासन देने पहुंचे हो लेकिन वह सरकार को कभी माफ नही करेंगे.

झबरेड़ा विधायक का बयान  

वहीं झबरेड़ा विधायक ने भी अपनी सफाई देते हुए कहा कि वह जल्द ही किसानों की समस्या हल करने का प्रयास करेंगे.





See More

 
Top