देहरादून। दीपावली के त्यौहार को हर कोई खास अंदाज में खुशियों के साथ मनाना चहता है और भाजपा कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों के इस बार दिपावली दोहरी खुशियां लेकर आई है…जी हां संजय कुमार पर लगे यौन शोषण के आरोपों के बाद जहां संजय कुमार को संगठन महामंत्री पद से हटा दिया गया है..

भाजपा कार्यालय के कर्मचारियों में खुशी की लहर, उत्पीड़न से थे परेशान

वहीं संजय कुमार के पद से हटाएं जाने की सबसे बड़ी खुशी भाजपा प्रदेश कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारी माना रहे है. जो दीपावली पर इसे बोनस पाने के साथ दोहरा उपहार मान रहे हैं, क्योंकि संजय कुमार के उत्पीड़न से भाजपा कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारी भी परेशान थे…इसलिए संजय कुमार के जाने से भाजपा कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों के चेहरे पर इन दिनों अलग ही रौनक देखने को मिल रही है…संजय कुमार के जाने का सवाल कर्मचारियों से छेड़ दो तो कर्मचारी हंसते हुए यही बोल रहे हैं कि संजय की विदाई ठीक हुई।

बोनस देने के पक्ष में नहीं थे संजय

बीजेपी कार्यायल में काम करने वाले कर्मचारी कहते हैं कि संजय कुमार काम न होते हुए भी कर्मचारियों से 12 से 14 घंटे काम लिया करते थे और इस बार दीपावली पर बोनस कर्मचारियों को न मिले ये बात वह प्रदेश अध्यक्ष अजट भट्ट से कह चुके थे…कर्मचारियों के मन में ये बात मन ही मन कचोट रहे थी कि उन्हे बोनस मिलेगा या नहीं….लेकिन संजय कुमार की विदाई दीपावली से पहले होने से कर्मचारियों को बोनस की सौगात मिल गई।

  खबर उत्तराखंड से कही बात

संजय कुमार के कृत्यों से प्रदेश कार्यालय के कर्मचारी परेशान थे.ये बाते उन्होने खबर उत्तराखंड से कही है। साथ ही कर्मचारियों का कहना कि चुनाव के दौरान जो पैसे कर्मचारियों को हर बार मिलता था वह एक बार का पैसा संजय कुमार ने रोक रखा है…जिससे अभी तक पार्टी ने दिया नहीं है। संजय कुमार ने इसलिए पैसा कर्मचारियों का नहीं दिया क्योंकि पैसे दिए जाने की बात कर्मचारियों ने प्रदेश महामंत्री नरेश बंसल से कही थी, जो उन्हे ना गवरा गुजर गई।





See More

 
Top