एक्जिट पोल के परिणामों में तेलंगाना में सत्ताधारी, तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) को सत्ता में बरकरार रहने की संभावना जताई गई है. विभिन्न सर्वेक्षणों में कांग्रेस के नेतृत्व वाले पीपल्स फ्रंट को विधानसभा में विपक्ष में बैठने की संभावना जताई गई है.

कांग्रेस ने टीआरएस से मुकाबले के लिए तेलुगू देशम पार्टी, तेलंगाना जन समिति और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी से गठबंधन किया था.

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एक्जिट पोल में 119 सदस्यीय विधानसभा में टीआरएस को 79-91 सीटें दी गई हैं, जबकि कांग्रेस नेतृत्व वाले गठबंधन को 21-33 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है. आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन एआईएमआईएम को 4-7 सीटें और भाजपा को 1-3 सीटें दी गई हैं.

टाइम्स नाउ-सीएनएक्स के सर्वे में टीआरएस को 66 सीटें और कांग्रेस नेतृत्व वाले गठबंधन को 37 सीटें दी गई हैं.

रिपब्लिक-सी-वोटर के सर्वेक्षण में टीआरएस को 48-60 सीटें, कांग्रेस को 47-59, भाजपा को पांच और अन्य को एक-तीन सीटें दी गई हैं.

टीवी9 तेलुगू-एएआरए ने टीआरएस को 75-85 सीटें दी है, कांग्रेस को 25-35, भाजपा को दो-तीन और अन्य को सात-11 सीटें.

हालांकि न्यूजएक्स-नेता के सर्वेक्षण में टीआरएस को 57 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने का अनुमान जताया गया है, जो सरकार बनाने के लिए जरूरी 60 सीटों से तीन कम है. इस सर्वे में प्रजा कुटमी को 46 सीटें, भाजपा को छह और अन्य को 10 सीटें दी गई हैं.

तेलंगाना में शुक्रवार को मतदान हुआ है और परिणाम की घोषणा 11 दिसंबर को की जाएगी.





See More

 
Top