शनिवार को बॉलीवुड के ऐक्शन किंग और ही-मैन कहे जाने वाले धर्मेंद्र अपना 83वां जन्मदिन बना रहे है. उनका जन्म 8 दिसंबर 1935 को पंजाब में हुआ था. उनका पूरा नाम धरम सिंह देयोल है. धरम पाजी अपने ज़माने के सुपरस्टार थे जिन्होंने बॉलीवुड को कई हिट फिल्मे दी थीं.

अपनी शुरुआती फिल्मों से रोमांटिक छवि बनाने वाले धर्मेन्द्र को फूल और पत्थर, धरम वीर, चरस, आज़ाद और शोले जैसी फिल्मों ने एक्शन हीरो बना दिया. लेकिन फिल्मों में काम करने से पहले धर्मेंद्र रेलवे में क्लर्क की नौकरी करते थे जहा उन्हें सवा सौ रुपए सैलरी मिलती थी.

धर्मेंद्र ने दो बार शादी की और अपनी दोनों पत्नियों को बनाए रखा है. उनकी पहली शादी मात्र 19 साल की उम्र में प्रकाश कौर से 1954 में हुई थी. इसीलिए अपनी ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी से शादी करने के लिए धर्मेन्द्र ने इस्लाम धर्म को क़ुबूल किया था. लेकिन हेमा मालिनी से इश्क फरमाने से पहले धर्मेन्द्र ने अपना दिल किसी और को भी दिया था. आइये आपको बताते है धर्मेन्द्र कि इस अनोखी दिल की दास्ताँ के बारें में…

हम बात कर रहे है उस ज़माने की मशहूर अदाकारा मीना कुमारी की. मीना कुमारी से उनकी मुलाकात साल 1964 में आई फिल्म ‘मैं भी लड़की हूं’ के दौरान हुई थी. उस वक्त धर्मेंद्र और मीना कुमारी दोनों ही शादीशुदा थे. 1952 में ही मीना कुमारी ने फिल्म निर्देशक कमाल अमरोही के साथ शादी कर ली थी.

ये शादी उन्होंने अपने परिवार के खिलाफ जाकर की थी. लेकिन शादी के कुछ साल बाद मीना कुमारी और उनके पति कमाल अमरोही के रिश्ते में दरार आ गई थी और दोनों ने अपने रास्ते अलग कर लिए थे. बताया जाता है धर्मेंद्र की वजह से मीना कुमारी का अपने पति कमाल अमरोही से तलाक हो गया था .

धर्मेन्द्र ने उस समय अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी लेकिन मीना कुमारी के सितारे बुलंदियों पर थे. कई हिट फिल्में देने वाली मीना कुमारी उस वक़्त बॉलीवुड के आसमां का वो सितारा थीं, जिसे छूने के लिए हर कोई बेताब था. धीरे धीरे मीना कुमारी और धर्मेन्द्र करीब आने लगे. दोनों की नजदीकियों की चर्चे होने लगी थी.

कहा जाता है मीना कुमारी, धर्मेंद्र के प्यार में इस कदर पागल हो गईं थीं कि उन्हें उनके अलावा कुछ सूझता ही नहीं था. धर्मेन्द्र ने मीना कुमारी पर अपना जादू चला दिया था. इतना नहीं मीना कुमारी के शोहरत के बल पर धर्मेद्र के करियर की डूबती नैया को किनारा मिल गया था. उन्होंने धर्मेद्र के करियर को ऊंचाइयों तक ले जाने में कोई कसार नहीं छोड़ी थी और फिर धीरे-धीरे धर्मेद्र के करियर ने भी रफ्तार पकड़ी.

लेकिन फिल्म ‘फूल और पत्थर’ की सफलता के बाद, धर्मेद्र ने मीना कुमारी से दूरियां बनानी शुरू कर दीं थी. इतना सब कुछ करने बाद भी मीना कुमारी को बेवफाई ही मिली. और एक बार मीना कुमारी की जिंदगी तन्हा रह गईं. उस वक़्त छपी रिपोर्ट्स के मुताबिक़ धर्मेंद्र को मीना कुमारी से कोई प्यार नहीं था बल्कि उन्होंने मीना का इस्तेमाल किया था क्यूंकि उस समय धर्मेन्द्र को फिल्म इंडस्ट्री में अपने कदम जमाने थे.

मीना कुमारी अंदर ही अंदर टूट गई थी और धर्मेन्द्र की इस बेवफाई को वो झेल नहीं पाईं. उन्होंने खुद को शराब में डुबो लिया और फिर उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया था. इसके बाद धर्मेन्द्र की ज़िन्दगी में उनकी ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी आई और दोनों का रिश्ता आज तक कायम है.





See More

 
Top