संयुक्त राष्ट्र|…. संयुक्त राष्ट्र महासभा में हमास की निंदा करने वाला अमेरिका द्वारा प्रस्तावित मसौदा पारित नहीं हो सका. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्की हेली द्वारा समर्थित इस मसौदे में इजरायल के खिलाफ हमास के रॉकेट हमलों की निंदा की गई थी. यह फिलीस्तीन के हमले की निंदा करने वाला यूएनजीए का पहला मसौदा था.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, गुरुवार को मतदान से पहले महासभा ने बहुमत तय करने के लिए अलग से मतदान कराया क्योंकि इस मसौदे को पारित करने के लिए बहुमत की जरूरत होगी.

इस मसौदे के पक्ष में 87 जबकि विरोध में 58 वोट पड़े. वहीं, 32 ने मतदान से दूरी बनाए रखी, जिसके परिणामस्वरूप मसौदा संयुक्त राष्ट्र महासभा में जरूर दो तिहाई बहुमत जीतने में नाकाम रहा. सभी अरब देशों ने इस मसौदे के खिलाफ मतदान किया.

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने फिलीस्तीन सरकार के एक प्रस्ताव पर भी मतदान किया, जिसमें इजरायली बस्तियों की निंदा की गई थी और भावी शांति समझौते के मानकों का उल्लेख था. इस प्रस्ताव को पारित कर दिया गया है. इसके खिलाफ केवल छह वोट पड़े थे.





See More

 
Top